BRAKING NEWS

6/recent/ticker-posts

Header Add

दिल और साँस की नली और फेफड़े के बीच गांठ को सूर्या हास्पिटल के डॉक्टरों ने निकाला

Vision Live/Greater Noida 
गाँठ बच्चे के दिल और साँस की नली और फेफड़े के बीच स्थित थी और यह चारों तरफ से हृदय से निकलने वाली सारी बड़ी रक्त की नसों से घिरी  हुई थी इसके बाद इस ओपरेशन को सूर्या हॉस्पिटल की डॉ. सुगंध और डॉ दिव्या और उनकी टीम के द्वारा 4 - 5  घंटों में बड़ी महनत के फलस्वरूप बिना किसी रक्त उत्पाद के उपयोग किया बिना सफलता पूर्वक किया गया।  
सूर्य हॉस्पिटल्स के डायरेक्टर  डॉ  राकेश कुमार ठाकुर और  डॉ नीरज कुमार सिंह के साथ-साथ अन्य डॉ सुगंध, डॉ अविनाश, डॉ  दिव्या, डॉ एहतेशाम पत्रकारों से बातचीत करते हुए बताया कि अब्दुल अहाद, उम्र तीन माह मेल बेबी  यहाँ सुर्या हॉस्पिटल (Unit of Vedansh Group of Hospitals) के आपातकालीन विभाग में गंभीर हालत मे बुखार और साँस की दिक्कत के कारण लाया गया।  जहाँ पर  आपातकालीन विभाग के डॉक्टर्स के द्वारा बच्चे को Noninvasiv Ventilation Technology द्वारा स्थिर कर PICU मे भर्ती किया गया और X -Ray  और विभिन्न जाँच की सहायता से Pneumonia / Bronchopneumonia diagnose कर के इलाज शुरू किया गया। परन्तु शुरू किये गये इलाज से अपेक्षित सुधार ना होने की स्थिति और लगातार ऑक्सीजन की जरुरत पड़ने के कारण डॉ. अविनाश और डॉ. एहतेशाम द्वारा मरीज़ की बीमारी पर पुनर्विचार  किया गया । सूर्य अस्पताल में उपलब्ध (Point of Care ) अल्ट्रासाउंड जाँच के द्वारा एक मेडियास्टिरल गाँठ (Bronchogenic Cyst ) का पता चला।  यह गाँठ बच्चे के दिल और साँस की नली और फेफड़े के बीच स्थित थी और यह चारों तरफ से हृदय से निकलने वाली सारी बड़ी रक्त की नसों से घिरी  हुई थी इसके बाद इस ओपरेशन को सूर्या हॉस्पिटल की डॉ. सुगंध और डॉ दिव्या और उनकी टीम के द्वारा 4 - 5  घंटों में बड़ी महनत के फलस्वरूप बिना किसी रक्त उत्पाद के उपयोग किया बिना सफलता पूर्वक किया गया।  

सूर्या अस्पताल (Unit of Vedansh Group of Hospitals) नॉलेज पार्क-3 , ग्रेटर नोएडा में स्थिति यह हॉस्पिटल 100 बेड की सुपर स्पेशलिस्ट हॉस्पिटल है। जिसमे इस छेत्र की सबसे बड़ी NICU है। जो अत्याधुनिक सुविधाओं से लैस है। सुर्या अस्पताल की NICU को सञ्चालन बहुत ही योग्य टीम के द्वारा किया जा रहा है जिसमे नियोनेटोलॉजिस्ट, बाल रोग विशेषज्ञ, सर्जन, बाल चिकित्सा आर्थोपेडिक्स, बाल हृदय रोग विशेषज्ञ, सभी है नवजात बच्चो को बीमारी से सम्बंधित सभी सुविधाओँ को NICU में बेड के साथ ही उपलब्ध कराइ जाती है  नवजात बच्चों से सम्बंधित सभी प्रकार की सर्जरी सुर्या अस्पताल में की जाती है सबसे खास बात यह है की ये सारी सुविधाएँ अयुष्मान योजना में कवर है। आज आयुष्मान की वजह से ये बच्चा जिसका नाम अब्दुल अहाद अपनी सर्जरी करवा कर मुस्कान के साथ अपने घर वापस जा रहा है।
अब्दुल अहाद के पापा सैम जी ने सूर्य हॉस्पिटल्स के डायरेक्टर  डॉ  राकेश कुमार ठाकुर और  डॉ नीरज कुमार सिंह के साथ-साथ अन्य डॉ सुगंध, डॉ अविनाश, डॉ  दिव्या, डॉ एहतेशाम और  स्टाफ का तहे दिल से शुक्रिया किया है।