BRAKING NEWS

6/recent/ticker-posts

Header Add

ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण की सीईओ ़ऋतु माहेश्वरी ने गांवों में साईनेज बोर्ड लगाए जाने के निर्देश दिए

 


जनसुनवाई के दौरान हिदुं युवा वाहिनी के पूर्व जिलाध्यक्ष चैनपाल प्रधान ने आज मंगलवार को जनसुनवाई के दौरान फिर  ग्रेटर नोएडा के गांवों में नामांकन के बोर्ड और गली नंबर के बोर्ड लगाए जाने की मांग उठाई

विजन लाइव/ग्रेटर नोएडा

ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण की मुख्य कार्यापालक अधिकारी ़ऋतु माहेश्वरी ने गांवों में साईनेज बोर्ड लगाए जाने के निर्देश दिए हैं। ग्रेटर नोएडा के बिरौंडा गांव निवासी हिंदु युवा वाहिनी के पूर्व जिलाध्यक्ष चैनपाल प्रधान ने हाल में ही मुख्य कार्यापालक को अधिकारी को पत्र लिख कर नोएडा की तर्ज गांवों के नाम और गली नंबर लिख कर क्रमवार लगाए जाने की मांग की थी। कई बार गावों में दूसरे स्थान से आने वाले लोगों को भटकते हुए देखा गया हैं। जनसुनवाई के दौरान हिदुं युवा वाहिनी के पूर्व जिलाध्यक्ष चैनपाल प्रधान ने आज मंगलवार को जनसुनवाई के दौरान फिर  ग्रेटर नोएडा के गांवों में नामांकन के बोर्ड और गली नंबर के बोर्ड लगाए जाने की मांग उठाई। उन्होंने बिरौंडा गांव के 6 प्रतिशत किसान आबादी भूखंडों के आवटित किए जाने के मामले को भी प्रमुखता से उठाया। इस पर मुख्य कार्यापालक अधिकारी ़ऋतु माहेश्वरी ने परियोजना विभाग के अधिकारियों को निदेर्शित किया कि सभी गांवों में नामंकन के बोर्ड लगाए जाएं और गालियों को नंबर के आधार पर बांटा जाए। साथ ही इस मौके परग्रेटर नोएडा प्राधिकरण की मुख्य कार्यापालक अधिकारी ऋतु माहेश्वरी ने अधिसूचित एरिया में अतिक्रमण के खिलाफ अभियान चलाने और जमीन कब्जाने वालों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं। इस दौरान ग्रेटर नोएडा वेस्ट स्थित गांव बिसरख, पतवाड़ी, रोजा जलालपुर, ऐमनाबाद आदि के आसपास बड़े पैमाने पर प्राधिकरण की अधिसूचित, अधिग्रहित कब्जा प्राप्त जमीन अवैध कब्जों की शिकायत आई। इस पर मुख्य कार्यापालक अधिकारी ने पुलिस.प्रशासन की मद्द से अतिक्रमण के खिलाफ जोरदार अभियान चलाने के निर्देश दिए। सेक्टर दो में आवंटियों के भूखंडों पर कुछ लोगों के कब्जा कर लेने की भी शिकायत आई। मुख्य कार्यापालक अधिकारी ने ऐसे लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराने और पुलिस की मद्द से अवैध निर्माण को तत्काल ढहाने के निर्देश दिए। साथ ही आवंटित भूखंडों पर आवंटियों को पजेशन दिलाने को कहा है। मुख्य कार्यापालक अधिकारी ने यह भी चेताया है कि अधिसूचित एरिया में किसी को भी अवैध कब्जा करने की इजाजत नहीं है। कोई भी व्यक्ति ऐसा करने की कोशिश करेगा तो उसके खिलाफ कड़ी कानूनी कार्रवाई की जाएगी।  साथ ही मुख्य कार्यापालक अधिकारी ने नियोजन विभाग, परियोजना भूलेख विभाग से किसानों के आबादी प्लॉट से जुड़े सभी मसलों को शीघ्र निस्तारित कराने को कहा है। उन्होंने इस कार्य में लापरवाही बरतने वालों के खिलाफ कार्रवाई की भी चेतावनी दी। इसके अलावा जन सुनवाई के दिन आने वाली शिकायतों के त्वरित निस्तारण के लिए सभी अधिकारियों को कार्यालय में अनिवार्य रूप से उपस्थित रहने के निर्देश दिए। जनसुनवाई के दौरान अपर मुख्य कार्यापालक अधिकारी प्रेरणा शर्मा भी मौजूद रहीं।