BRAKING NEWS

6/recent/ticker-posts

Header Add

बडी खबरः---- देवला गांव में लगने वाली अवैध मंडी पर चला बुल्डोजर

 








बडी खबरः---- देवला गांव में लगने वाली अवैध मंडी पर चला बुल्डोजर, दादरी नोएडा रोड पर अवैध रेहडी, पटरी दुकानदारों के जमघट से पैदल तक निकलना बना था, दुश्वार

गौतमबुद्धनगर में यदि सबसे ज्यादा दुर्घटना होती है, तो सूरजपुर और दादरी के बीच इसी मैन रोड पर होती हैं। अब तक जाने कितने ही लोग काल के गाल में समा चुके हैं

 




देवला गांव की इस अवैध मंडी को यहां से हटवाने की मांग लंबे समय से गौतमबुद्धनगर प्रशासन और ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण से की जा रही थी। आज सोमवार को ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण और पुलिस की संयुक्त कार्यवाही से यहं अवैध मंडी पूरी तरह से हटवा दिया गया। उन्होंने बताया कि कुछ दुकानदार अतिक्रमण हटाओ दस्ते के जाने के बाद फिर डेरा तंबू तक गाडने लगे हैं। इसलिए ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण को चाहिए कि यहां फुटपाथ और रोड के किनारे ग्रिल जैसी व्यवस्था जरूर कराए, ताकि फिर से दुकानदार यहां मैन रोड पर अतिक्रमण कर सकेंंः सुखवीर सिंह आर्य


 

मौहम्मद इल्यास-’’दनकौरी’’/ग्रेटर नोएडा

सीएम योगी का बुल्डोजर ग्रेटर नोएडा के देवला गांव में गरजता हुआ दिखाई दिया। देवला गांव में मैन रोड पर अवैध रूप से लगने वाली सब्जी मंडी की और कई तरह की दूसरी दुकानों को पूरी तरह से हटा दिया गया। इससे यहां से निकलने वाले राहगीरों को बडी राहत मिल गईं है। ग्रेटर नोएडा का देवला गांव औद्योगिक क्षेत्र से घिरा हुआ है। यहां चारों ओर औद्योगिक इकाईयां है, यही कारण है दूर दूर से यहां नौकरी पेशा लोगों का आवगमन होता है। यूपीएसआईडीसी के साईट-बी और साईट सी जैसे औद्योगिक सेक्टर होने नाते देवला गांव में मजदूर तबके के लोग ज्यादातर किराए पर रहते हैं। दूसरी ओर नोएडा से दादरी की ओर जाने वाला मैन रोड भी यहीं से होकर गुजरता है। दादरी रेलवे स्टेशन और कंटनेर डिपो तिलपता कर्णवास गांव में स्थित होने के कारण नोएडा दादरी रोड पर भारी वाहनों का दवाब रहता है। गौतमबुद्धनगर में यदि सबसे ज्यादा दुर्घटना होती है, तो सूरजपुर और दादरी के बीच इसी मैन रोड पर होती हैं। अब तक जाने कितने ही लोग काल के गाल में समा चुके हैं। ऐसे में यहां दादरी नोएडा रोड पर अवैध रेहडी पटरी दुकानदारों का जमघट लगा रहता है। देवला गांव मे सूरजपुर दादरी मैन रोड पूरी तरह से अतिक्रमण की चपेट में गया है। यहां ठेली,पटरी और खोमचे वालों ने पूरी तरह से अपना बसेरा बना लिया है। इससे सूरजपुर दादरी की ओर आने.जाने वाले वाहन चालकों को भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ता रहा है। शाम के समय इन ठेली पटरी वालों का इतना जमघट हो जाता था कि पैदल निकलना तक दुश्वार होता है। वहीं कंटनेर, टैंपू जैसे भारी वाहनों का दवाब अलग से होता था। बताया जाता है कि यहां इस स्थिति के चलते हुए वाहन एक दूसरे से टकराते रहते हैं और कई लोग तो दुर्घटनाओं में अपनी जान तक गंवा चुके हैं। पहलें इस अवैध मंडी की शुरूआत 2-3 सब्जी की दुकानों से हुई थी और बढते बढते हुए अब यह इतना विकराल रूप लेती गई कि यहां सैकडों की संख्या में साप्ताहिक बाजार जैसी दुकानें हर रोज लगने लगीं। इस बारे में ग्रेटर नोएडा क्षेत्र के प्रमुख समाजसेवी अखिल भारतीय गुर्जर महासभा के वरिष्ठ प्रदेश उपाध्यक्ष सुखवीर सिंह आर्य ने भी ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण से मांग की थी कि देवला गांव में लगने वाली इस अवैध मंडी को यहां से हटवा कर मैन रोड को पूरी तरह से साफ सुथरा किया जाए।



सुखवीर सिंह आर्य ने ’’विजन लाइव’’ को बताया कि अवैध मंडी को यहां से हटवाने की मांग लंबे समय से गौतमबुद्धनगर प्रशासन और ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण से की जा रही थी। आज सोमवार को ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण और पुलिस की संयुक्त कार्यवाही से यहं अवैध मंडी पूरी तरह से हटवा दिया गया। उन्होंने बताया कि कुछ दुकानदार अतिक्रमण हटाओ दस्ते के जाने के बाद फिर डेरा तंबू तक गाडने लगे हैं। इसलिए ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण को चाहिए कि यहां फुटपाथ और रोड के किनारे ग्रिल जैसी व्यवस्था जरूर कराए। उन्होंने बताया कि गुलिस्तानपुर चौराहे से लेकर अगली रोड तक ग्रीन बेल्ट है। इस ग्रीन बेल्ट पर भी अवैध कंटनेर अड्डा बना हुआ है जहां कंटेनरों का जमघट लगा रहता है। गौतमबुद्धनगर पुलिस प्रशासन, ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण और यूपीएसआईडीसी को चाहिए कि इस ग्रीन बेल्ट से अवैध कंटेनरों के कब्जा को हटवाया जाए और देवला में मैन रोड पर लगाई जाती रही, अवैध मंडी को यहां पर लगवाया जाए। यदि ऐसा नही किया तो फिर उच्च स्तर पर इस मामले को ले जाया जाएगा और यहां तक की मुख्यमंत्री महंत योगी आदित्यनाथ से मुलाकात कर पूरे मामले से अवगत कराया जाएगा।