>
>
>
>

जून की भरी दुपहरी में गौतमबुद्धनगर से लेकर लद्दाख तक साईकिल यात्रा पूरी कर संजीव वर्मा एडवोकेट और राजीव गहलोत ने  गौतमबुद्धनगरवसियों का सिर गर्व से उंचा कर दिया

 

>
>
>

 विजन लाइव/गौतमबुद्धनगर 

गौतमबुद्धनगर से लद्दाख तक यात्रा साईकिल से करते हुए एक नया कीर्तिमान हासिल किया गया हैं। साईकिल की यह यात्रा गौतमबुद्धनगर दीवानी एवं फौजदारी बार एसोसिएशन के पूर्व बार अध्यक्ष संजीव वर्मा एडवोकेट और उनके साथी राजीव गहलोत ने पूरी की है। इससे पहले भी संजीव वर्मा एडवोकेट, 200 किमी, 300, 400 और 600 किमी तक की साईकिल यात्रा पूरी करते हुए एक नया मुकाम हासिल कर चुके हैं। पूर्व बार अध्यक्ष संजीव वर्मा एडवोकेट ग्रेटर नोएडा साईकिल क्लब यूनिट के सदस्य भी हैं। इससे पहले संजीव वर्मा एडवोकेट और उनके साथी राजीव गहलोत ने ग्रेटर नोएडा से लेकर गोवा तक भी साईकिल यात्रा पूरी कर गौतमबुद्धनगर का नाम पूरे देश में रोशन किया थां। इस बार जून की भरी दुपहरी में गौतमबुद्धगर से लेकर लद्दाख तक साईकिल यात्रा पूरी कर गौतमबुद्धनगरवसियों का सिर गर्व का उंचा कर दिया गया है।

>
साईकिल राईडर संजीव वर्मा एडवोकेट और राजीव गहलोत ने ’’विजन लाइव’’ डिजिटल मीडिया को बताया कि गौतमबुद्धनगर ज़िले के ग्रेटर नोएडा से 3 जून 2022 को अपनी साइकल यात्रा लेह लद्दाख खारडुंगला की प्रारंभ की और यह यात्रा दो चरणों में उनकी प्रथम चरण में तीन जून से आठ जून तक ग्रेटर नोएडा से मनाली पहुँचे व 9 जून से मनाली से लेह खारडुंगला के लिए यात्रा प्रारंभ की और मनाली से दोनों अधिवक्ताओं के साथ रिटायर्ड कर्नल श्री गुरु चरन विरदी निवासी चंडीगढ़ ने भी साइकिल यात्रा प्रारंभ की और मनाली से तीनों के साथ अंगद विरदी ने अपनी इससुज़ुकी कार में पानी व कुछ खाने की सामग्री लेकर साथ में सहायक वाहन के रूप में सहायता की ओर से अग्रिम यात्रा में पहाड़ों की चढ़ाई व  उतार के साथ रास्ते में बहुत सी जगह पानी के कारण सड़कें टूटी हुई अव्यवस्थित को भी पार करते हुए तथा इस बीच तीन चार बार पर्वतों पर सर्वाधिक ऊँचाई 17,000 फ़ीट तक तब भी चढ़ाई की और अंतिम चरण में 15.6.22 को लेह से  खारदुंगला 44 किलोमीटर सीधी चढ़ाई पार की जो की 18,300 फ़ुट तक पहुँची पर पहुँच कर तीनों ने अपने सफ़र का समापन किया ।  इस यात्रा में ग्रेटर नोएडा से लेह खारदुंगला तक 1044 किलोमीटर की यात्रा दुर्गम पहाड़ियों को पार करते हुए की व 13 दिन में सम्पन्न की। पड़ाव रहे 161 km घरोंदा , खरर 151 km , 68 km स्वारघाट , 75 km डोंग सुन्दरनगर , 101 km देवभूमि होमस्टे , 35  km कुल्लू मनाली, 55 km अटल टनल पार कर लाहौल  स्पीती , 25 km टांडी , 65 km पेटसियो, 58 km सरचु, 83km पांग, 67km रुमतसे , 81 खारदुंगला ।