केंद्र सरकार ने धान की फसल का समर्थन मूल्य 72 पैसे प्रति किलो बढ़ाकर किसानों के साथ भद्दा मजाक कियाःकृष्ण नागर

 



विजन लाइव/ग्रेटर नोएडा

 किसान एकता संघ के पदाधिकारियों ने राष्ट्रीय महासचिव बृजेश भाटी के नेतृत्व में पढ़ती पेट्रोल, डीजल की कीमतों को लेकर प्रधानमंत्री के नाम ज्ञापन एडीएम को सौंपा। इस मौके पर किसान एकता संघ संगठन के जिलाध्यक्ष कृष्ण नागर ने कहा कि पेट्रोलियम पदार्थों में लगातार हो रही वृद्धि से किसान की कमर टूट गई है, किसान, खेती किसानी करने में असमर्थ है। गन्ना किसानों का समय से भुगतान नहीं किया जा रहा है। केंद्र सरकार द्वारा किसानों के साथ धोखा किया जा रहा है। धान की फसल का समर्थन मूल्य 72 पैसे प्रति किलो बढ़ाकर सरकार ने किसानों के साथ भद्दा मजाक किया है। पूरे देश में किसान की हालत खराब है। किसान एकता संघ के राष्ट्रीय महासचिव बृजेश भाटी ने बताया कि किसान एकता संघ ने आज प्रधानमंत्री के नाम ज्ञापन एडीएम प्रशासन दिवाकर सिंह को सौंपा और पेट्रोलियम पदार्थों की दरों में वृद्धि वापस लेने व धान का न्यूनतम मूल्य में बढ़ोतरी, गन्ने का भुगतान समय से होने की मांग की है, अगर समय रहते इन तीन मांगों पर विचार नहीं किया गया तो किसान एकता संघ पूरे देश में आंदोलन करेगा। इस मौके पर बृजेश भाटी, आलोक नागर, अखिलेश प्रधान, उमर प्रधान, लोकेश भाटी, सतीश कनारसी, मनीष भाटी बी.डी.सी. सीपी सोलंकी, आशु अटटा, आजाद अधाना, प्रदीप भाटी, इंद्रपाल मास्टर आदि पदाधिकारी और कार्यकर्तागण मौजूद रहे।