विजन लाइव/गौतमबुद्धनगर

पुलिस कमिश्नर गौतमबुद्धनगर के निर्देशन में कोरोना संक्रमण जैसी महामारी के कारण अवसाद ग्रस्त होने पर पुलिसकर्मियों के लिए पुलिस वेबिनार शिविर का आयोजन किया गया। पुलिस वेबिनार शिविर में पुलिस कमिश्नरेट गौतमबुद्धनगर के फ्रंटलाइन वारियर्स में सकारात्मक ऊर्जा व प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के उद्देश्य से डॉक्टर्स के पैनल के माध्यम से एसीपी-2 महिला सुरक्षा द्वारा पुलिस कर्मियों के साथ संवाद स्थापित  किया गया। इस मौके पर एसीपी-2 महिला सुरक्षा ने कहा कि कोविड.19 जैसी वैश्विक महामारी से आज के समय हम सभी में भय का माहौल है इस माहौल से कोई भी व्यक्ति अछूता नही है। कोविड.19 जैसी महामारी में सबसे ज्यादा चैलेंजिंग ड्यूटी पुलिस कर्मी कर रहे हैं जिससे पुलिस कर्मी अवसाद ग्रस्त भी हो रहे हैं। पुलिसकर्मियों की इन समस्याओं को देखते हुए उच्च अधिकारीगण द्वारा वरिष्ठ चिकित्सकों के साथ समय समय पर संवाद स्थापित किया जा रहा है, जिससे पुलिस कर्मी ड्यूटी के साथ साथ इस संक्रमण से बचाव भी कर सकें तथा तनाव मुक्त भी हो सकें। पुलिस वेबिनार शिविर में डा0 पंकज चौधरी फिजिशियन, डा0 आलोक वाजपेयी मनोरोग चिकित्सक,डा0 छवि रंजन गाइनेकोलॉजिस्ट सम्मिलित हुए। इनके द्वारा कोरोना संक्रमण होने पर उपचार व सावधानी के बारे में बताया गया कि सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए मॉस्क का प्रयोग, सेनैटाइजर व दो गज दूरी का पालन करने तथा इस महामारी का भय मन मे बैठा कर अवसाद ग्रस्त न हो। साथ ही कोविड-19 को लेकर कई तरह की अफवाह भी सामने आ रही हैं जैसे कि मॉस्क पहने रहने से ऑक्सीजन लेवल कम होना जिसके संबंध में चिकित्सकों द्वारा इस प्रकार की अफवाहों को खारिज करते हुए विस्तृत जानकारी प्रदान की गई। डा0 छवि रंजन द्वारा प्रेग्नेंट महिलाओं को वैक्सीन दिए जाने के संबंध में बताया गया कि जल्द ही इस संबंध में भारत सरकार द्वारा अनुमति मिलने की उम्मीद है। डा0 पंकज चौधरी द्वारा फंगस के संबंध में जानकारी दी गई साथ ही कहा गया यदि किसी व्यक्ति को कोरोना या फंगस के कोई लक्षण दिखाई पड़ते हैं तो तत्काल चिकित्सक से परामर्श लेकर अपना उपचार प्रारंभ करें अन्यथा ये जानलेवा हो सकता है। अंत मे वरिष्ठ मनोवैज्ञानिक डा0 आलोक वाजपेयी ने बताया कि कोरोना संक्रमण से अवसाद ग्रस्त होने की आवश्यकता नहीं है सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए अपने लिए 30 मिनट का समय जरूर निकाले तथा मेडिटेशन करते हुए अपने आप को बेस लेवल पर ले जाकर योग अथवा कोई भी अपना पसंद का कार्य करें। इस वेबिनार में 95 प्रतिभागियों ने भाग लिया तथा कोविड 19 से संबंधित शंकाओं को विशेषज्ञों के माध्यम से दूर किया।