BRAKING NEWS

6/recent/ticker-posts

Header Add

बिसरख में अवैध रूप से 4 और डूब क्षेत्र में बने 5 घरों को ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण ने किया सील


  

 ग्रेटर नोएडा  प्राधिकरण ने सीलिंग की कार्रवाई आगे भी जारी रखने की दी चेतावनी
 जमीन कब्जाने वालों के खिलाफ  ग्रेटर नोएडा  प्राधिकरण का अभियान तेज
Vision Live/Greater Noida 
 ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण की जमीन कब्जा करके निर्माण कर लेने वालों के खिलाफ कार्रवाई शुरू हो गई है। मंगलवार को परियोजना विभाग की टीम ने बिसरख में अवैध रूप से बने चार घरों को सील कर दिया है। साथ ही डूब क्षेत्र में बने पांच घरों को भी सील किया गया है।
ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के सीईओ एनजी रवि कुमार के निर्देश पर प्राधिकरण की जमीन पर अवैध कब्जा करने वालों के खिलाफ अभियान चलाया जा रहा है। इसी क्रम में मंगलवार को बिसरख में बड़ी कार्रवाई की गई। ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण की एसीईओ अन्नपूर्णा गर्ग ने बताया कि बिसरख गांव में खसरा नंबर-773 की करीब 3 हेक्टेयर जमीन ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण की अधिग्रहित कब्जा प्राप्त जमीन है। इस पर कुछ लोगों ने अवैध कब्जा करते हुए घर बना लिया था। ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण की तरफ से कब्जा हटाने के लिए नोटिस जारी की गई, लेकिन कब्जा न हटाने पर प्राधिकरण ने मंगलवार को कार्रवाई की। परियोजना विभाग के वर्क सर्किल तीन के वरिष्ठ प्रबंधक मनोज सचान, प्रबंधक प्रशांत समाधिया व नीतीश कुमार और सहायक प्रबंधक गौरव बघेल की टीम ने स्थानीय सुरक्षा कर्मियों की मदद से खसरा नंबर 773 के चार घरों को सील कर दिया। कोर्ट से स्टे होने के बावजूद यहां पर लगातार निर्माण किया जा रहा था। प्राधिकरण ने स्थगन आदेश का हवाला देकर अवैध निर्माण को भी रुकवा दिया है। इसके बाद प्राधिकरण की टीम हिंडन के डूब क्षेत्र में पहुंची। कालोनाइजर बिसरख के पास डूब क्षेत्र में खसरा नंबर 112 में भी कालोनी काट रहे थे। प्राधिकरण ने इस खसरा नंबर में अवैध रूप से बने 5 घरों को भी सील कर दिया है। एसीईओ अन्नपूर्णा गर्ग ने चेतावनी दी है कि ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के अधिसूचित अथवा अधिग्रहित/कब्जा प्राप्त जमीन पर अवैध निर्माण बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। जिन लोगों ने प्राधिकरण की जमीन पर कब्जा कर लिया है, उनके खिलाफ कार्रवाई जारी रहेगी। सभी अवैध निर्माण तोड़े जाएंगे।