BRAKING NEWS

6/recent/ticker-posts

Header Add

जीबीयु के कुलाधिपति सीएम योगी दीक्षांत समारोह में डिग्रियां बाटेंगे

Vision Live/Greater Noida 
गौतम बुद्ध विश्वविद्यालय का दीक्षांत समारोह आयोजित हो रहा है,जिसमें  मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ समारोह की अध्यक्षता करेंगे । इसमें 7914 छात्रों को उपाधियाँ प्रदान की जाएगी। मुख्यमंत्री ही जीबीयु के कुलाधिपति भी हैं और वो विश्वविद्यालय के दीक्षांत समारोह में पहली बार प्रतिभाग करने जा रहे हैं। यह जीबीयू परिवार एवं छात्र-छात्राओं में इस बात बहुत उत्साहित हैं। 
इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि महामहिम उपराष्ट्रपति  जगदीप धनकर हैं और साथ ही प्रदेश के लोक निर्माण मंत्री  बृजेश सिंह एवं औद्योगिक विकास मंत्री नंद गोपाल गुप्ता नन्दी भी प्रतिभाग कर रहे हैं। दीक्षान्त समारोह में 7914 छात्रों विद्या वाचस्पति, स्नातकोत्तर एवं स्नातक की डिग्री दी जायेंगी। 7914 उपाधियों में से 282 डॉक्टरेट उपाधियाँ दी जाएगी।  भारत और विदेशों से छात्रों की उपस्थिति: बौद्धिक देशों से अधिकांश संन्यासी और साध्वी छात्र इस अवसर पर मौजूद होंगे। तैयारियाँ पूरी तरह से जोरशोर से चल रही हैं।
यह समारोह गौतम बुद्ध विश्वविद्यालय के छात्रों के उत्कृष्टता का प्रतीक है और उनकी मेहनत और समर्पण का परिणाम है। सम्मान समारोह के दौरान विभिन्न क्षेत्रों में सशक्त प्रतिभाओं को सम्मानित किया जाएगा। 
दीक्षान्त समारोह के दौरान ही दो और कार्यक्रम होगी जो निम्न है: 
(i) माननीय प्रधान मंत्री द्वारा वर्ष 2025 तक क्षय रोग को देश से पूर्णरूपेण समाप्त करने का संकल्प लिया है। जिसके लिए उत्तर प्रदेश सरकार भी दृढ़संकल्प है। विश्वविद्यालय ने अपने सामाजिक दायित्वों का निर्वहन करते हुए डॉट कार्यक्रम के अंतर्गत दस व्यक्तियों को गोद लेने का निर्णय लिया है। उनमें से दो व्यक्तियों को डॉट किट 
​1. चिराग प्रकाश शर्मा (उम्र 11 वर्ष)
2. सादिक़ (उम्र 21 वर्ष)
(ii) युवाओं को रोजगार के लिए कुशल बनाने के इरादे से माननीय मुख्यमंत्री इंटर्नशिप कार्यक्रम की उत्तर प्रदेश में शुरुआत की गई है। इस योजना के तहत इंटर्नशिप का 50% उद्योग जगत एवं 50% उत्तर प्रदेश सरकार वहन करेगी। इसी क्रम में गौतम बुद्ध विश्वविद्यालय द्वारा उद्योग जगत की तीन कंपनियों के साथ MoU हस्ताक्षरित किया जाना है।कंपनी जिससे अनुबंध होने जा रहा है ऐड्वर्ब रोबोटिक्स, एल जी एलेक्ट्रॉनिक्स और सीएनएच इंडस्ट्रियल इंडिया।