BRAKING NEWS

6/recent/ticker-posts

Header Add

स्मार्ट इंडिया हैकथॉन-2023 (छठे संस्करण का ग्रैंड फिनाले) 19-23 दिसंबर 2023 को गलगोटिया विश्वविद्यालय मे होगा

Vision Live/Yeida City 
स्मार्ट इंडिया हैकथॉन-2023 (छठे संस्करण का ग्रैंड फिनाले) 19-23 दिसंबर 2023 को गलगोटिया विश्वविद्यालय परिसर में आयोजित होने जा रहा है। इससे पहले, विश्वविद्यालय ने टॉयकैथॉन और स्मार्ट इंडिया हैकथॉन 2022 का सफलतापूर्वक आयोजन किया है। आगामी कार्यक्रम: स्मार्ट इंडिया हैकथॉन-2023 के संदर्भ में गलगोटियास यूनिवर्सिटी ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस का आयोजन किया है, जिसमें प्रेस को संबोधित करते हुए विश्वविद्यालय के चांसलर सुनील गलगोटिया ने प्रसन्नता व्यक्त करते हुए कहा कि शिक्षा मंत्रालय ने पूरे भारत में 47 संस्थानों को नोडल केंद्र के रूप में चुना है। गलगोटियास विश्वविद्यालय उत्तर प्रदेश में SIH-2023 के हार्डवेयर संस्करण की मेजबानी करने वाला एकमात्र संस्थान है। यह हमारे लिए गर्व का विषय है। 
गलगोटियास यूनिवर्सिटी के सीईओ ध्रुव गलगोटिया ने कहा कि हम SIH-2023 की मेजबानी पाकर बेहद सम्मानित महसूस कर रहे हैं, हम उन प्रतिभाओं लिए एक मंच के रूप में देश की सेवा करते हैं जो भारत के भविष्य को आकार देंगी। गलगोटियास विश्वविद्यालय की हमारी चार टीमों को स्मार्ट इंडिया हैकोथन सॉफ्टवेयर संस्करण के लिए चुनी गयी हैं. हमें विस्वास है कि वे अपनी प्रतिभा से अपनी छाप छोड़ेगे।
यूनिवर्सिटी के कुलपति प्रोफेसर मल्लिकार्जुन बाबू ने प्रेस को संबोधित करते हुए कहा कि हमें खुशी हो रही है कि गलगोटियास यूनिवर्सिटी को भारत सरकार द्वारा तीसरी बार इस प्रतिष्ठित कार्यक्रम की मेजबानी के लिए चुना गया है। स्मार्ट इंडिया हैकाथॉन 2023 के ग्रैंड फिनाले में मंत्रालय ने हमें नोडल सेंटर के रूप में चुनकर अपना विश्वास दिखाया है और हमारी पूरी टीम 70 फैकल्टी मेंबर और 200 स्टूडेंट वॉलिंटियर 32 संस्थानों के 250 से अधिक प्रतिभागियों की मेजबानी करने के लिए तत्पर हैं। 
प्रेस को संबोधित करते हुए प्रतिकुलपति (प्रो-वीसी) प्रो. अवधेश कुमार ने कहा कि स्मार्ट इंडिया हैकथॉन 2023 एक राष्ट्रव्यापी पहल है। जो छात्रों को हमारे दैनिक जीवन में आने वाली कुछ गंभीर समस्याओं को हल करने के लिए एक मंच प्रदान करता है। गलगोटिया यूनिवर्सिटी के लिए इस प्रतिष्टित कार्यक्रम की मेजबानी करना गर्व का विषय है। 
नोडल अधिकारी मिनाक्षी शर्मा ने बताया कि गलगोटिया विश्वविद्यालय भारत के 13 विभिन्न राज्यों से आई कुल 35 टीमों की मेजबानी करेगा। कुल मिलाकर, 32 प्रतिभागी संस्थान हैं जिनमें 250 से अधिक प्रतिभागी हैं जिनमें 200 से अधिक छात्र और लगभग 40 सलाहकार (मेंटर) शामिल हैं। उन्होंने कहा कि गलगोटियास विश्वविद्यालय की टीमें तीन अलग-अलग सरकारी संगठनों द्वारा दिए गए 4 विषयों (स्मार्ट शिक्षा, स्मार्ट ऑटोमेशन, मेडटेक/बायोटेक/हेल्थटेक और विविध) के आधार पर विभिन्न समस्याओं को हल करने के लिए प्रतिस्पर्धा करेंगी। 
इन चुनौतियों के लिए समस्या विवरण शिक्षा मंत्रालय, राष्ट्रीय तकनीकी अनुसंधान संगठन (एनटीआरओ) और सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्रालय द्वारा प्रदान किए जाएंगे। मेडटेक/बायोटेक और हेल्थटेक थीम के लिए 17 टीमें, स्मार्ट शिक्षा के लिए 6 टीमें, स्मार्ट ऑटोमेशन के लिए 7 टीमें और अन्य अनुभागों के लिए 5 टीमें शामिल होंगी।
विश्वविद्यालय के कुल सचिव डॉ. नितिन गौर ने अपने संबोधन में कहा कि उत्तर प्रदेश में SIH-2023 के हार्डवेयर संस्करण की मेजबानी के  चुना हमारे विश्वविद्यालय के गर्व का विषय है। SIH-2023 समस्या समाधान के मानसिकता और तंत्र दोनों के निर्माण का महत्वाकांक्षी आयोजन है। हमारा विश्वविद्यालय पूर्व की भांति ही इस  बार भी सफल आयोजन करेगा।   
गलगोटियास यूनिवर्सिटी के जनसंचार विभाग के अध्यक्ष प्रो. ए. राम  पाण्डेय ने अपने मीडिया बंधुओं को प्रेस कान्प्रेंस में आने के लिए धन्यावाद ज्ञापित किया और आगामी हैकथॉन के दौरान सक्रिय भागीदारी और कवरेज के लिए निवेदन किया।