>
>
विजन लाइव/ग्रेटर नोएडा
शारदा विश्वविद्यालय के स्कूल ऑफ इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी में दो द्विवसीय अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन का आयोजन कैंपस परिसर में किया गया। इस सम्मेलन का विषय एप्लीकेशन ऑफ आर्टिफिशयल इंटेलिजेंस एंड मशीन लर्निंग था। कार्यक्रम के दौरान जर्मनी, सऊदी अरब, नेपाल, यूके, तुर्की, मलेशिया आदि देशों से 323 रिर्सच पेपर प्राप्त हुए थे। सम्मेलन का शुभांरभ नॉथवेस्टर्न यूनिवर्सिटी के अनुसंधान प्रोफेसर अंकित अग्रवाल, शारदा स्कूल ऑफ इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी के डीन डॉ परमानंद, शारदा के कंप्यूटर साइंस एंड इंजीनियरिंग के अध्यक्ष डॉ नितिन राकेश ने पारंपरिक दीप जलाकर की। कार्यक्रम के दौरान ऐबसट्रेक पुस्तक का विमोचन भी किया गया। डॉ परमानंद ने कहा कि आज के समय में आर्टिफिशयल इंटेलिजेंस एंड मशीन लर्निंग के क्षेत्र में बढ़े बदलाव देखे जा सकते है। ऐसा कोई क्षेत्र नही है जहां इस से जुड़े कार्य नही हो रहे हो, यहां तक की हमारी रोज मर्रा में भी आर्टिफिशयल इंटेलिजेंस की बड़ी भूमिका हो गई है। शिक्षा संस्थान से लेकर हर घर तक आर्टिफिशयल इंटेलिजेंस के बीना कोई कार्य संभव नही है।  
प्रोफेसर अंकित अग्रवाल ने संबोधित करते हुए कहा कि वह शारदा विश्वविद्यालय में आकर बेहद अच्छा महसूस कर रहे है और सम्मेलन का विषय आज के समय के अनुसार बहुत जरूरी है। प्रोफेसर अग्रवाल ने कहा कि इंटरनेट के कारण दुनिया छोटी होती जा रही है लेकिन इंटरनेट के डेटा को किस प्रकार सुरिक्षत रखा जाए यह इसके साथ एक बड़ सवाल जुड़ा है। अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन में शारदा के अनेक शिक्षकगण एंव छात्रगण मौजूद थे।