BRAKING NEWS

6/recent/ticker-posts

Header Add

खैरपुर गुर्जर गांव में किसानों ने भरी हुंकार

 


ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण की दोहरी नीति को कतई बर्दाश्त नही किया जाएगा और इसके लिए आर पार की लडाई लडी जाएगीः पवन खटाना

विजन लाइव/ग्रेटर नोएडा

 ग्रेटर नोएडा क्षेत्र के खैरपुर गुर्जर गांव में किसानों की एक आम बैठक एडवोकेट विनोद वर्मा एडवोकेट के आवास पर संपन्न हुई। बैठक में फैसला लिया गया कि ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण द्वारा किसानो को 10 प्रतिशत आबादी के भूखंड नही दिए जा रहे हैं। इस मुद्दे को लेकर हाल मेंं खैरपुर गुर्जर गांव के किसानों द्वारा ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण कार्यालय पर हल्ला बोल प्रदर्शन किया था। प्राधिकरण ने शीघ्र ही भूखंड दिलाए जाने का आश्वासन दिया था मगर अभी तक प्राधिकरण के अधिकारियों के कानों पर जूं नही रेंग रही है। इसलिए आगामी 4 अक्टूबर-2020 को ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण कार्यालय पर धरना प्रदर्शन कर मुख्यमत्री के नाम संबोधित एक ज्ञापन सीईओ को सौपेंगे। बैठक में शमिल रहे दीवानी एवं फौजदारी बार एसोसिएशन गौतमबुद्धनगर के पूर्व के अध्यक्ष प्रमोद कुमार वर्मा एडवोकेट ने बताया कि खैरपुर गुर्जर गांव के किसानों की इस बैठक में भारतीय किसान यूनियन को भी आमांत्रित किया गया भारतीय किसान यूनियन ने अश्वासन दिया है कि गांव के किसानों की 10 प्रतिशत आबादी भूखंड की समस्याओं को कंधा से कंधा मिला कर लडते हुए हल करवाएंगे और किसानों को उनका हक मिल कर रहेगा।




बैठक को संबोधित करते हुए भारतीय किसान यूनियन के पश्चिमी उत्तर प्रदेश अध्यक्ष पवन खटाना ने कहा कि भूमि अधिग्रहण रद्द किए जाने के समय हाईकोर्ट ने ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण को आदेश दिया था कि चाहें तो प्राधिकरण किसानों को 10 प्रतिशत भूखंड और 64.07 अतिरिक्त मुआवजा आदि सुविधाएं देते हुए राजी कर लें। इस पर ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण ने सबसे पहले कोर्ट गए किसानों को यह सुविधाएं देते हुए मनाना शुरू कर दिया। जब कि ऐसे किसान सीधे साधे किसान जो कोर्ट गए ही नही उन्हें 10 प्रतिशत भूखंड और 64.07 अतिरिक्त मुआवजा आदि सुविधाएं देने से पल्ला झाडना शुरू कर दिया। उन्होंने कहा कि किसी प्राधिकरण की इस दोहरी नीति को कतई बर्दाश्त नही किया जाएगा और इसके लिए आर पार की लडाई लडी जाएगी। उन्होंने खैरपुर गुर्जर के  किसानों का अहवान किया कि आगामी 10 अक्टूबर-2020 को ग्रेटर नोएडा के जीरों प्वाइंट पर होने वाली भारतीय किसान यूनियन की महापंचायत में बढ चढ कर हिस्सा लें, किसानों के हकों को लेकर आर पार की लडाई लडी जाएगी।  बैठक को भारतीय किसान यूनियन के राजीव मलिक, राजे प्रधान, अनित कसाना और फिरेराम तौंगड आदि पदाधिकारियों ने भी संबोधित किया। बैठक की अध्यक्षता सेलक खारी ने की। इस मौके पर बैठक में दीपचंद नेताजी, प्रेमराज, सेलक खारी, किशनचंद, रमेश प्रधान, ओमवीर प्रधान, उपेंद्र नेताजी, एडवोकेट विनोद वर्मा, एडवोकेट प्रमोद वर्मा, प्रवीन शर्मा समाजसेवी, सुमित खारी, रवि गुर्जर, अमित चौधरी, हरी खारी आदि दर्जनों किसान शामिल रहें।