>

>

 

दनकौर नगर निकाय चुनाव-2022 परिदृश्यः..-------- चेयरमैन और नगर सभासद पदों के लिए अभी से ही टिकट के लिए दौड भाग शुरू

प्रत्याशी सोशल मीडिया पर खासे एक्टिव दिखाई दे रहे हैं, पर्व हो या फिर किसी महापुरूष की जयंती सोशल पर मीडिया पर बधाई देने का कोई मौका नही चूक रहे 

मौहम्मद इल्यास-’’दनकौरी’’/ग्रेटर नोएडा

नगर निकाय चुनावों को लेकर जिले में सरगर्मी शुरू हो गई हैं। नवंबर-2022 या फिर दिसंबर-2022 तक नगर निकाय चुनाव संपन्न कराए जाने तय माने जा रहे हैं। शासन सूत्रों की माने तो परिसमीन का काम तेजी से चल रहा है अक्टूबर के अंत तक परिसीमन का काम पूरा कर लिया जाएगा और सीटों के आरक्षण की घोषणा भी कर दी जाएगी। जिले की दादरी नगर पालिका और नगर पंचायतों में दनकौर, बिलासपुर, रबूपुरा, जेवर और जहांगीरपुर में नगर निकाय चुनावों होने हैं। इसके साथ ही जिले की सिलारपुर भंगेल को भी नगर पालिका बनाए जाने की चर्चा है। दनकौर को भी नगर पालिका बनाए जाने की चर्चा जोरो पर हैं। चेयरमैन और नगर सभासद पदों के लिए अभी से ही टिकट के लिए दौड भाग शुरू कर दी गई है। इस बार भाजपा से टिकट को लेकर सबसे ज्यादा जद्दोजहद देखी जा रही है। जब कि बसपा, सपा और कांग्रेस से टिकट के दावेदारों की खासी कमी दिखाई दे रही है। यहां गौतमबुद्धनगर जिले के दनकौर कसबे की बात करें तो चेयरमैन पद के संभावित प्रत्याशी सोशल मीडिया पर खासे एक्टिव दिखाई दे रहे हैं। पर्व हो या फिर किसी महापुरूष की जयंती सोशल मीडिया पर बधाई देने का कोई मौका नही चूक रहे हैं। इनमें एक संभावित प्रत्याशी तो ऐसा है, जो शहर के लोगों की जन्म दिन की शुभकानाएं देने से सोशल मीडिया पर नही चूका रहा है। इसके अलावा खुशी हो या फिर गम यह संभावित प्रत्याशी कोई भी मौका नही चूक रहे हैं। यहां नगर चेयरमैन के पद पर बसपा के टिकट पर चुनाव जीते हुए मास्टर अजय कुमार भाटी हैं। चेयरमैन मास्टर अजय कुमार भाटी इस बार दो नावों पर सवारी करते हुए दिखाई दे रहे हैं। चेयरमैन मास्टर अजय कुमार भाटी का भाजपा से टिकट को लेकर नाम चल रहा है, किंतु वहीं बसपा में अभी भी बने हुए हैं। इनके एक हाथ में बसपा, तो दूसरे हाथ में भाजपा है। भाजपा के ज्यादातर कायक्र्रमों में भी चेयरमैन मास्टर अजय कुमार भाटी की उपस्थिति दिखाई देती रही हैं। स्वंतत्रता दिवस समारोह की पूर्व संध्या 14 अगस्त-2022 को संपन्न हुए नगर पंचायत कार्यालय में सम्मान समारोह में भी ज्यादतार भाजपाई ही दिखाई दिए थे। मुख्य अतिथि के रूप में पूर्व केंद्रीय मंत्री सांसद डा0 महेश शर्मा की उपस्थिति से सम्मान समारोह भाजपामय बना दिखाई दिया था।

>
>
इनके साथ ही भाजपा के टिकट की चाह रखने वालों में भाजपा सेक्टर संयोजक अतुल मित्तल, नगर पंचायत सभासद अजीत चौहान, नरेंद्र नागर और अखिलेश नागर के नाम भी खासे चर्चा में हैं। उंची दनकौर के पूर्व प्रधान स्व0 बाबा तेजपाल के पोत्र गौरव नागर भी टिकट की दौड में हैं। इनके अलावा भी कई और लोग भी टिकट की चाह में है। खास बात यह है कि भाजपा टिकट की यह फेहरिस्त पूर्व केंद्रीय मंत्री सांसद डा0 महेश शर्मा के खेमें की है। विधायक ठाकुर धीरेंद्र सिंह के खेमेंं की टिकट फेहरिस्त आनी अभी बाकी है। गैर भाजपा की बात करें तो किसान एकता संघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष सोरन प्रधान ने भी चुनावी ताल ठोंक दी हैं। सोरन प्रधान बसपा से चुनाव लडेंगे या फिर सपा से अभी पत्ते नही खोले हैं। फिलहाल सोरन प्रधान मैदान में मजबूती से डटे हुए हैं। हाल ही में दनकौर के तेलीवाडा में बिजली कर्मचारियों और महिलाओं के बीच विवाद को लेकर सोरन प्रधान ने थाने का घेराव करते हुए आंदोलन किया और जमकर सूर्खियां बटोरी थी। दनकौर क्षेत्र में बिजली विभाग के मनमाने रवैये के कारण ज्यादातर जनता त्रस्त है और सोरन प्रधान ने बिजली विभाग की नाकामियांं को जिस प्रकार उठाया है, खासा चर्चा का विषय बना हुआ है। गैर भाजपा की कडी में पूर्व नगर चेयरमैन रोशनी देवी के पुत्र हरीश और दूसरी ओर पूर्व चेयरमैन जय सिंह के पुत्र दीपक भी सही मौके की तलाश में है। यदि इनमें से भी कोई चुनावी ताल ठोंकता है तो समीकरण जरूर बदल जाएंगे।