BRAKING NEWS

6/recent/ticker-posts

Header Add

दो हफ्ते में ग्रेटर नोएडा की हरियाली और बेहतर करने का अल्टीमेटम

 

>

ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण जीएम प्रोजेक्ट केआर वर्मा ने कॉन्ट्रैक्टरों के साथ की बैठक -बेहतर काम करने वाले कॉन्ट्रैक्टरों की रैंकिंग में होगा सुधार

विजन लाइव/ ग्रेटर नोएडा 

ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण की हरियाली को और बेहतर बनाने के लिए कॉन्ट्रैक्टरों को दो सप्ताह का अल्टीमेटम दिया गया है। सोमवार को उद्यान से जुड़े कॉन्ट्रैक्टरों के साथ ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के महाप्रबंधक केआर वर्मा ने बैठक की और ये निर्देश दिए। इस अवधि के दौरान हरियाली का जायजा लिया जाएगा। अगर कार्य बेहतर मिला तो पूर्व में कॉन्ट्रैक्टरों को मिली रैंकिंग में भी वरिष्ठ अधिकारियों की सहमति से सुधार कराने का आश्वासन दिया और खराब स्थिति मिलने पर उसे ब्लैक लिस्ट करने की चेतावनी दी है। ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के सीईओ मेरठ मंडल आयुक्त सुरेन्द्र सिंह के निर्देश पर महाप्रबंधक प्रोजेक्ट केआर वर्मा, वरिष्ठ प्रबंधक कपिल सिंह व प्रबंधक गौरव बघेल ने सोमवार को उद्यान विभाग के कार्यों से जुड़े कॉन्ट्रैक्टरों के साथ बैठक की। 

उन्होंने कॉन्ट्रैक्टरों को निर्देश दिए कि दो सप्ताह में ग्रीन बेल्ट, पार्क, रोड साइड ग्रीनरी, सेंट्रल वर्ज की ग्रीनरी आदि को दुरुस्त कर लें। पिछली बार निरीक्षण के दौरान जिन जगहों पर खामियां मिलीं थीं, अगर उनमें सुधार नहीं  हुआ है तो उसे अब तत्काल दुरुस्त कर लें। उन्होंने इसके लिए दो सप्ताह का समय दिया है। इसके बाद वे अपनी टीम के साथ निरीक्षण करेंगे। अगर खामियां मिलीं तो कॉन्ट्रैक्टर के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी और अगर बेहतर ग्रीनरी मिली तो पूर्व में कॉन्ट्रैक्टरों को दी गई रैकिंग (ए, बी व सी श्रेणी) में सुधार किया जाएगा। पिछली बार के निरीक्षण में जो कॉन्ट्रैक्टर बी व सी श्रेणी में आए थे, अगर उन्होंने बेहतर काम किया है तो वरिष्ठ अधिकारियों की सहमति से उनकी रैंकिंग को और सुधारा जाएगा। उन्होंने कॉन्ट्रैक्टरों के भुगतान से संबंधित समस्या को भी शीघ्र हल कराने का आश्वासन दिया है।