>

 

>

एटीएम बदलकर/एटीएम स्कैन कर धोखाधडी करने वाले गैंग का पर्दाफाश कर, 42 एटीएम कार्ड, 41 फर्जी आधार कार्ड, 13 मोबाइल फोन, 02 आईडी कार्ड, 09 चैकबुक, 04 पासबुक व 01 स्कैनर मशीन बरामद

 विजन लाइव/ थाना सेक्टर-58  

थाना सेक्टर-58 नोएडा पुलिस द्वारा एटीएम बदलकर/एटीएम स्कैन कर धोखाधडी करने वाले गैंग का पर्दाफाश कर 04 अभियुक्त गिरफ्तार, कब्जे/निशादेही से 42 एटीएम कार्ड, 41 फर्जी आधार कार्ड, 13 मोबाइल फोन, 02 आईडी कार्ड, 09 चैकबुक, 04 पासबुक व 01 स्कैनर मशीन बरामद किया गया है। एडीसीपी रणविजय सिंह  ने बताया कि  दिनांक 18.06.2022 को थाना सेक्टर-58 नोएडा पुलिस द्वारा एलआईसी बिल्डिंग सेक्टर-62, नोएडा से एटीएम बदलकर/एटीएम स्कैन कर धोखाधडी करने वाले गैंग का पर्दाफाश कर 04 अभियुक्त 1.जयप्रकाश उर्फ पंकज पुत्र संजीव वर्मा निवासी भरत सिंह का मकान, आरसी 273, इंदिरा विहार, खोड़ा कॉलोनी, जिला गाजियाबाद मूल निवासी ग्राम दरवा, थाना बस्ती, जिला बस्ती 2.अरमान पुत्र निजामुद्दीन निवासी अब्दुल मलिक का मकान, दीपक विहार, खोडा कॉलोनी, मदीना मस्जिद के पास बेकरी वाली गली, थाना खोड़ा, जिला गाजियाबाद स्थायी पता ग्राम पकरी, विशनपुर, थाना घुगली, जनपद महाराजगंज, 0प्र0 3.टीटोन दास उर्फ टीटू पुत्र विश्वनाथ दास निवासी निठारी ब्लड बैंक वाली गली नंबर 3, सेक्टर-31, थाना सेक्टर-20, नोएडा मूल निवासी ग्राम गंगारामपुर, नियर फुटबॉल स्टेडियम, जिला मालदा, पश्चिम बंगाल 4.नीरज पुत्र अशोक कुमार निवासी जे-47, ग्राम बिशनपुरा, थाना सेक्टर-58, नोएडा मूल निवासी ग्राम यम्केश्वर, जिला पौड़ी गढ़वाल, उत्तराखंड को गिरफ्तार किया गया है। अभियुक्तों के कब्जे/निशादेही से घटना से सम्बन्धित 42 एटीएम कार्ड, 41 फर्जी आधार कार्ड, 13 मोबाइल फोन, 02 आईडी कार्ड, 09 चैकबुक, 04 पासबुक व 01 स्कैनर मशीन बरामद हुये है।

>

>

अभियुक्तों से की गयी पूछताछ पर ज्ञात हुआ है कि सभी अभियुक्त एक गैंग बनाकर कार्य करते है जिन एटीएम में पैसे नही होते है, अभियुक्त वहां पर खडे हो जाते है तथा एटीएम से पैसे निकालने वाले व्यक्तियो का इंतजार करते है जब पैसे नही निकलते है तो अभियुक्त उनकी मदद करने के बहाने उनके एटीएम को बदल लेते है तथा उनका पिन देख लेते है उसके बाद नकली एटीएम बदल कर उन व्यक्तियों को दे देते है तथा असली एटीएम के माध्यम से दूसरे एटीएम पर जाकर पैसे निकाल लेते है। अभियुक्तों ने भिन्न-भिन्न नाम व पतो के फर्जी आधार कार्ड बना रखे है जिनके माध्यम से फर्जी खाते खुलवाये जाते है तथा लोगों को अपने झांसे में लेकर अभियुक्तों द्वारा खुलवाये गये फर्जी खातो में भोले भाले लोगो को फोन करके धोखाधडी से पैसे ट्रांसफर कराये जाते है। अभियुक्तों से की गयी पूछताछ पर यह भी ज्ञात हुआ है कि अभियुक्त जय प्रकाश के नाम से सेक्टर-18, नोएडा की एक शाखा में खाता खुलवा रखा है, जिसमें अब तक लगभग 36 लाख रूपये धोखाधडी से ट्रांसफर करवाये गये है। अभियुक्त जय प्रकाश द्वारा एक ही नाम के भिन्न-भिन्न पतो के 04 आधार कार्ड भी बनवा रखे है। अभियुक्तों से की गयी पूछताछ पर यह भी ज्ञात हुआ है कि इस गैंग का एक अन्य सदस्य हुसैन पुत्र वाजिद अली है, उपरोक्त सभी व्यक्ति हुसैन के साथ मिलकर धोखाधडी से प्राप्त की गयी एटीएम को हुसैन को उपलब्ध कराते है, हुसैन इन एटीएमो का स्कैनर मशीन से क्लोन भी बनाता है, जिसमें अभियुक्त 1.जय प्रकाश उर्फ पंकज 2.अरमान 3.टीटोन दास उर्फ टीटू 4.नीरज पूर्ण रूप से सहयोग करते है तथा अभियुक्त जय प्रकाश उर्फ पंकज से एक एटीएम क्लोनिंग इलेक्ट्रानिक्स डिवाईस बरामद हुआ है। उपरोक्त अभियुक्त ऑनलाइन डिलीवरी का काम भी करते थे, किसी व्यक्ति द्वारा ऑनलाइन डिलीवरी मंगाने के पश्चात क्लोनर स्कैनर मशीन साथ में लेकर जाते थे यदि कोई व्यक्ति अपनी एटीएम से पैसे देता था तो उसके एटीएम को स्कैन कर यह अपने फर्जीवाडे को अंजाम देते थे।