शारदा विवि के प्रो चांसलर वाई. के, गुप्ता ने बच्चो को योग के फायदे के बारे में जागरूक किया, जिससे वह एक निरोग जीवन जी सके, गलत चीज़ों से अपने आप को बचा सके और अपने दिन की शुरुआत एक अच्छी आदत से करे

 


शारदा विश्वविद्यालय के कुलपति सिबाराम खारा ने बताया कि शरीर और मन की शांति के लिए योग बहुत जरूरी है। योग करने से शरीर स्वस्थ रहता है

 


विजन लाइव/ग्रेटर नोएडा

शारदा विश्वविद्यालय में 21 जून को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस मनाया गया। इसी के तहत शारदा विश्विद्यालय में प्रबंधन, प्रोफेसर और छात्रों ने एक साथ मिलकर 2 घंटे तक योग किया। योग कार्यक्रम सुबह छह बजे से शुरू होकर आठ बजे तक चला,  जिसमे लगभग डेढ़ सौ के करीब लोगो ने भाग लिया। शारदा विवि के प्रो चांसलर वाई. के, गुप्ता ने बच्चो को योग के फायदे के बारे में जागरूक किया, जिससे वह एक निरोग जीवन जी सके, गलत चीज़ों से अपने आप को बचा सके और अपने दिन की शुरुआत एक अच्छी आदत से करे, क्योंकि आज कल बच्चे भी कई गंभीर बीमारियों की चपेट में आ रहे हैं और योग की मदद  से तन व मन को स्वस्थ रख सकते है और साथ ही यह शारीरिक व मानसिक विकास में भी फायदेमंद है।

>
  युवा सोशल मीडिया और ऑनलाइन गेमिंग में ज्यादातर समय व्यतीत कर रहे है, जिसका सीधा असर उनके दिमाग पर पड़ता है, उस चीज़ को कम करके यदि वह योग, एक्सरसाइज करेंगे तो शरीर फुर्तीला और दिमाग बढ़ेगा। शारदा विश्वविद्यालय के कुलपति सिबाराम खारा ने बताया कि शरीर और मन की शांति के लिए योग बहुत जरूरी है। योग करने से शरीर स्वस्थ रहता है। साथ ही योग से मानव जीवन पर सकारात्मक प्रभाव पड़ता है। प्रतिदिन योग करने से शारीरिक और मानसिक बीमारियां दूर रहती है।



बढ़ते तनाव को कम करने और लाइफस्टाइल से पैदा होने वाली समस्याओं को योग से दूर किया जा सकता है। योग दिवस कार्यक्रम के मौके पर मौजूद विवि के कुलसचिव विवेक गुप्ता भी थे, जिन्होंने बच्चो को योग करके दिखाया और कुछ आसन ऐसे बताए जो वह प्रतिदिन आसानी से कुछ समय निकाल कर कर सकते है। योग करने के बाद सभी छात्रों को प्रमाणपत्र दिया गया और बेहतरजीवन शैली जीने के लिए प्रोत्साहित किया गया। इसी  मौके पर मौजूद प्रोफेसर और पीआर के डायरेक्टर डॉ अजीत कुमार, डीन छात्र कल्याण डॉ निरुपमा गुप्ता, डीन रिसर्च डॉ भुवनेश कुमार सहित अन्य लोगों ने भी बच्चो के साथ योग किया।