>

रूपये न लौटाने और न ही प्लाट का बैनाम न किए जाने के मामले में कोर्ट का दरवाजा खटखटाया गया

>

मौहम्मद इल्यास-’’दनकौरी’’/ग्रेटर नोएडा

थाना दादरी क्षेत्र के ग्राम कठेहरा निवासी मनीष भाटी से दोस्ती कर पहले 29 लाख 50 हजार का एग्रीमेंट कर लिया।  यह रूपये लौटाने की स्थिति न होने पर प्लाट का बैनाम किए जाने की बात तय हुई थी। वर्ष 2016 तक रूपये नही लौटाए गए तो मनीष भाटी ने तकादा करना शुरू कर दिया। अब तक न जो रूपये लौटाए गए हैं और न ही प्लाट का बैनामा किया जा रहा है। उल्टा जान से मारने की धमकियां दी जा रही हैं। मनीष भाटी के वकील उमेश भाटी ने बताया कि रूपये न लौटाने और न ही प्लाट का बैनाम न किए जाने के मामले में कोर्ट का दरवाजा खटखटाया गया है। नोएडा के गांव हरौला की मुकेश देवी पुत्री स्वर्गीय रघुवर अवाना  ग्राम कठहेरा में ब्याही हैं। मुकेश देवी के बेटे मनीष भाटी से हरौला निवासी एक महिला और उसके दो बेटों ने एग्रीमेंट किया और 29 लाख 50 हजार रूपये ले लिए। मनीष भाटी ने बताया कि 6 साल पहले एग्रीमेंट हुआ था, एग्रीमेंट के अनुसार 6 साल बाद या तो लिए गए रूपये 29 लाख 50 हजार लौटाए जाने थे या फिर प्लाट का बैनाम किया जाना था। 6 साल की मियाद पूरी होने के बाद तकादा करना शुरू किया तो न पैसे लौटाए जा रहे हैं और न ही प्लाट का बैनामा किया जा रहा है। पीडित मनीष भाटी ने अब विपक्षीगणों की ओर से जान से मारने की धमकियां तक दी जा रही हैं। इस मामले को लेकर वह वकील से मिले हैं। मनीष भाटी के वकील उमेश भाटी ने बताया कि रूपये न लौटा कर और जान से मारने की धमकी देकर विपक्षीगण उलटा हेरा फेरी और धोखाधडी तक कर रहे हैं। इस मामले में विपक्षियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराने को लेकर कोर्ट का दरवाजा खटखटाया गया है।