>



जब से हितंेंद्र ने यूक्रेन से वीडियो जारी कर आपबीती सुनाइ्र्र थी उन्हें क्या परिवार के लोगों को नींइ तक नही आई हैं मगर अब हितेंद्र के सकुशल वापस आ जाने से दिल को तसल्ली हुई हैं- हितेंद्र के पिता राजवीर सिंह चैघरी

 मौहम्मद इल्यास-’’दनकौरी’’/ग्रेटर नोएडा

ग्रेटर नोएडा के तुगलपुर रहने वाले हितेंद्र यूक्रेन के कीव में पिछले कई दिनों से बंकर में फंसे हुए थे, मगर गुरूवार को तुगलपुर में परिवार के लोगों की आंखो उस समय खुशी से छलक उठी जब सुबह सुबह हितेंद्र चेची घर वापस लौट गया। तुगलपुर के स्वर्गीय चैधरी महेंद्र प्रधान के पोता हितंेंद्र चेची मेडिकल की पढाई के लिए यूक्रेन गया हुआ था। किंतु रूस और यूक्रेन के बीच युद्ध छिड गया तो कई छात्रों के साथ हितेंद्र भी वहां फंस गया। हितेंद्र चेची के चाचा व जेवर विधानसभा क्षेत्र से कांग्रेस प्रत्याशी मनोज चैधरी ने बताया कि मंगलवार को हितेंद्र ने कीव स्टेशन से ट्रेन लेकर पौलैंड एयरपोर्ट पहुंच थे। बुधवार दोपहर करीब एक बजे भारतीय सेना का जहाज मिला है। कड़ी मेहनत के बाद बच्चा फ्लाइट में बैठा। आखिर गुरूवार की सुबह फ्लाइट भारत आई और हितेंद्र घर आया गय। हितेंद्र चेची कीव की एक यूनिवर्सिटी में एमबीबीएस के प्रथम वर्ष की पढ़ाई कर रहा है। हिंतेंद्र बढ़ते हमलो के बीच बंकर में फंसे हुए था, जिसके बाद कीव के स्टेशन पर पहुंचे। ऐसे में यूक्रेन के नागिरको ने वहा पर गलत व्यवहार करते हुए ट्रेन में नहीं जाने दिया था। ऐसे में कड़ी मशक्कत के बाद पौलैंड बार्डर पर पहुंचे थे, जिसके बाद अब एयरपोर्ट से फ्लाइट मिल गई। इस मौके पर जैसे ही हितेंद्र चेची तुगलपुर स्थित आवास पर पहुंचा पहले से ही वहां पर बडे बुजुर्गो और आसपास से आए लोग बैठे हुए थे हितेंद्र ने पैर छुते हुए सभी का अभिवादन किया कि दादी भी एक ओर बैठी हुई थी मां, परिवार की अन्य महिलाएं थीं सभी हितेंद्र को गले से लगा लिया और खुशी व सुकून के आंसू छलक उठे सभी ने  बार बार ईश्वर का धन्यवाद अदा किया। हितेंद्र के पिता राजवीर सिंह चैघरी ने बताया कि जब से हितंेंद्र ने यूक्रेन से वीडियो जारी कर आपबीती सुनाइ्र्र थी उन्हें क्या परिवार के लोगों को नींइ तक नही आई हैं मगर अब हितेंद्र के सकुशल वापस आ जाने से दिल को तसल्ली हुई हैं।