ऑनलाइन साइबर फ्रॉड का शिकार हुए व्यक्तियों की कुल 01 लाख 50 हजार 455 रूपये की धनराशि को साइबर सेल पुलिस ने  वापस कराया

 





विजन लाइव/ गौतमबुद्धनगर

साइबर सेल पुलिस कमिश्नरेट गौतमबुद्धनगर द्वारा माह फरवरी 2022 में ऑनलाइन साइबर फ्रॉड का शिकार हुए पीडित व्यक्तियों की कुल 01 लाख 50 हजार 455 रूपये की धनराशि को त्वरित कार्यवाही करते हुये वापस कराया गया। पुलिस कमिश्नरेट गौतमबुद्धनगर मीडिया प्रवक्ता ने बताया कि इन निम्न प्रकरणों में धनराशि को वापस कराया गया हैं ।



1- आवेदक इमरान निवासी सेक्टर 63 नोएडा के डेबिट कार्ड की जानकारी लेकर दिनांक 21.02.2022 को ऑनलाइन 17292 रुपए की निकासी की गई थी। साइबर सेल द्वारा संबंधित से शीघ्र पत्राचार कर आवेदक की पूरी धनराशि 17292 वापस कराए गए।

2- आवेदक शंयाक त्यागी निवासी सेक्टर 108 नोएडा के कार्ड की जानकारी प्राप्त कर दिनांक 17/02/22 को ऑनलाइन धनराशि की निकासी की गई थी। साइबर सेल द्वारा त्वरित कार्रवाई करते हुए आवेदक के 36000  रिफंड कराए गए हैं।

3- आवेदक अजय कुमार निवासी सेक्टर 10 नोएडा के खाते की जानकारी कर दिनांक 18/02/22 को ऑनलाइन धन की निकासी की गई थी। साइबर सेल द्वारा संबंधित से पत्राचार कर आवेदक के 10175 वापस कराए गए हैं।

4- आवेदक मोहम्मद इरशाद निवासी कुलेसरा के खाते की जानकारी प्राप्त कर दिनांक 21/02/2022 को धन की निकासी की गई थी, साइबर सेल द्वारा त्वरित कार्रवाई करते हुए आवेदक के खाते से कटी धनराशि 38988 को रिफंड कराए गए है।

5-आवेदक रोहन कुमार निवासी मयू टू ग्रेटर नोएडा के खाते से दिनांक 8/02/22 को जानकारी प्राप्त कर धन की निकासी की गई थी। साइबर सेल द्वारा संबंधित से पत्राचार कर आवेदक के 48000 रिफंड कराए गए है।

साइबर फ्रॉड से बचने के लिए आवश्यक बातेंः-


 



1. जल्दबाजी में किसी से भी फोन कॉल पर बातें ना करें और ना ही किसी भी गैर परिचित व्यक्ति से अपनी बैंक से संबंधित जानकारी शेयर करें।

2. अपने डेबिट अथवा क्रेडिट कार्ड की गोपनीय जानकारी कभी किसी को शेयर ना करें जैसे- कार्ड पर लिखे 16 डिजिट नंबर कार्ड का सीवीवी तथा आपके रजिस्टर्ड मोबाइल पर प्राप्त होने वाली ओटीपी आदि।

3. सदैव ध्यान रखें कि किसी को यदि आपको धन भेजना है तो केवल अकाउंट नंबर की आवश्यकता होती है।

4. कभी भी अपना यूपीआई पिन किसी क्यूआर कोड को स्कैन कर ना भरे, इससे आपके साथ फ्रॉड हो सकता है और धनराशि कट सकती है।

5. आजकल प्ले स्टोर के माध्यम से अनेक रिमोट ऐप प्रचलित है जिनका प्रयोग आपके फोन,डेक्सटॉप आदि को रिमोट पर लेकर चलाने के लिए किया जाता है,किसी भी अनजान व्यक्ति के कहने पर किसी भी एप्लीकेशन को अपने फोन में इंस्टॉल ना करें। ऐसा करने से आपके फोन का सभी डाटा अज्ञात के पास जा सकता है और आप साइबर ठगी का शिकार हो सकते हैं।

6. आजकल प्ले स्टोर पर अनेक क्विक लोन देने वाली एप्लीकेशन उपलब्ध है कृपया कर ऐसी किसी भी एप्लीकेशन को अपने फोन अथवा डेक्सटॉप या अन्य कहीं भी डाउनलोड ना करें यह एप्लीकेशन आपके फोन का एक्सेस प्राप्त कर आप की गोपनीय जानकारी को लेकर आप को ब्लैकमेल कर सकते हैं।