>



विजन लाइव/ ग्रेटर नोएडा

नालेज पार्क स्थित  आई ई सी कॉलेज में केन्द्र सरकार की मीडियम एवं स्माल स्केल इंडस्ट्रीज को बढ़ावा देने वाली संस्था ने एक व्याख्यान करके कालेज के मैंनेजमेंट , इंजीनियरिंग और फार्मेसी के इंटरप्रिन्य़ोर सोच रखने वाले छात्रों का चयन करके उनको इंटरप्रिन्य़ोर बनने के सारे मानकों के बारे में वृहद व्याख्यान दिया। इस व्याख्यान में एम.एस.एम.- डेवलपमेंट इंस्टीट्यूट के हेड ज्वाइंट डायरेक्टर डॉ आर के भारती ने इनोवेटिव थाट क्रियेशन के वातावरण के बारे में वृहद उदाहरणों से उत्साहित किया। एम एस एम  के असिस्टेंट डायरेक्टर डॉ डी एस तोमर ने संस्था के विभिन्न गतिविधियों के बारे में परिचित कराया। ए.के. ओझा ने केंद्र सरकार की ऐसी विभिन्न योजनाओं के बारे में बताया जिनसे युवाओं को स्टार्टप और स्वरोजगार स्थापित करने के लिए सहायता मिलती है। लैंड रिक्वायरमेंट, सब्सिडी, बैंकिंग एंड फाइनेंस, रिबेट्स और ल़ोन के लिए पूरी प्रक्रिया से अवगत कराया। शारदा यूनीवर्सिटी के लांच पैड के डायरेक्टर डॉ अमित सहगल ने आइडियाज को इंप्लीमेंट कैसे करें वो तरीके समझाया। संस्थान के ही पूर्व छात्र तथा  यंग इंटरप्रिन्य़ोर, वी एस एनर्जी के संस्थापक विवेक सिंह ने प्रोडक्शन,मार्केटिंग, प्राइसिंग, प्रतिस्पर्धा और स्टार्टप के चेलैंजेज के बारे में बताया।  कालेज के  निदेशक प्रोफेसर सुनील कुमार तथा डा. भानु प्रताप सिंह सागर ने कालेज के इंटरप्रिन्य़ोरशिप ट्रेनिंग और प्रोजेक्ट्स के बारे में बताया। इस कार्यक्रम में ऐसे कई छात्र समूह निकलकर आगे आये जो अपना स्टार्टप स्थापित करना चाहते हैं। संस्थान के डीन प्रोफेसर बी. शरण ने छात्रों से नये  स्टार्ट अप लगा कर देश को तरक्की के पथ पर ले जाने की अपील की। कार्यक्रम संयोजक प्रोफेसर नुरुल हसन लस्कर ने सभी शिक्षको तथा छात्रो का धन्यवाद ज्ञापित किया।