>

विजन लाइव/गौतमबुद्धनगर

0 प्र0 राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा प्राप्त निर्देशों के अनुपालन में तथा माननीय जनपद न्यायाधीश गौतमबुद्वनगर के दिशा-निर्देशन में  जयहिंद कुमार सिंह, सचिव पूर्णकालिक, जिला विधिक सेवा प्राधिकरण, गौतमबुद्वनगर की अध्यक्षता में राजकीय बाल संऱक्षण गृह, गौतमबुद्वनगर में वीडियों कान्फे्रंसिंग के माध्यम से विधिक जागरुकता कार्यक्रम का आयोजन किया गया। शिविर में बाल-अपचारियों के विधिक अधिकारों, पाक्सो अधि0 के अन्तर्गत निहित प्रविधानों तथा किशोर न्याय (बालकों के देख-रेख व संरक्षण) अधिनियम, 2015 के बारे में विस्तृत रुप से जानकारी दी गयी। शिविर के दौरान राजकीय बाल सम्प्रेक्षण गृह के अधीक्षक धर्मेन्द्र मौर्य द्वारा आज की तिथि पर कुल 124 बाल अपचारी निरुद्ध होने की जानकारी दी गयी, जिसमें से 46 गाजियाबाद, 14 सहारनपुर एवं 60 बाल अपचारी गौतमबुद्वनगर के हैं। बाल-आपचारियों के रहन-सहन व खान-पान आदि के बारे में पूछताछ किया गया तो प्रातः नाश्ते में चाय, दुध व पराठा तथा दोपहर के भोजन में दाल चावल, रोटी व सलाद मिलने की जानकारी दी गयी। शिविर में कतिपय बाल आपचारियों के पास अधिवक्ता न होने की सूचना प्राप्त होने पर अधीक्षक, बाल सम्प्रेक्षण गृह को किशोर न्याय बोर्ड हेतु दिए गए पैनल अधिवक्ता में से निःशुल्क अधिवक्ता उपलब्ध कराए जाने के लिए आवश्यक दिशा-निर्देश दिये गये। बाल सम्प्रेक्षण गृह के अधीक्षक द्वारा बताया गया कि राजकीय बाल संरक्षण गृह में वर्तमान में प्रभारी अधीक्षक,  धर्मेन्द्र मौर्य के अतिरिक्त चार केयर टेकर व दो चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी तैनात है। अधीक्षक द्वारा वैकल्पिक अंतरालों पर बाल संप्रेक्षण गृह में डाक्टर का विजिट होना बताया गया तथा डाक्टर  दीपक कुमार द्वारा दिनांक 15.02.2022 को विजिट होना बताया गया। यह भी जानकारी दी गयी कि कोविड प्रोटोकाॅल का अनुपालन किया जा रहा है। कार्यक्रम के दौरान आगामी राष्ट्रीय लोक अदालत दिनांक 12.03.2022 को आयोजित किये जाने के बाबत जानकारी देते हुये प्रभारी अधीक्षक से व्यापक प्रचार-प्रसार करने के लिये निर्देश दिया गया।  शिविर में जयहिंद कुमार सिंह, सचिव पूर्णकालिक, जिला विधिक सेवा प्राधिकरण, गौतमबुद्वनगर के साथ धर्मेन्द्र मौर्य अधीक्षक, बाल सम्प्रेक्षण गृह व अन्य स्टाफ तथा बाल अपचारीगण उपस्थित रहे।