>

 जेवर क्षेत्र का खोया हुआ विकास का स्वरूप वापस लाएंगेःएडवोकेट नरेंद्र भाटी डाढा

 


विजन लाइव/जेवर विधानसभा

 जेवर विधानसभा क्षेत्र चुनाव-2022 चुनावी दंगल में सभी प्रत्याशियों ने प्रचार तेज कर दिया है। प्रत्याशियों के द्वारा विभिन्न मुद्दों में मतदाताओं को लुभाने का दौर जारी है। कोई किसान, मजदूर के दर्द की बात कर रहा है तो कोई विकास की तो, वहीं कई प्रत्याशी बेरोजगारी और भूमि अधिग्रहण के मुद्दे की बात कह रहे हैं। बसपा प्रत्याशी एडवोकेट नरेंद्र भाटी डाढा ने क्षेत्र के खोये हुए विकास के स्वरूपे वापस दिलाने की बात कही है। बसपा प्रत्याशी एडवोकेट नरेंद्र भाटी डाढा ने चुनाव जनसंपर्क अभियान के दौरान कहा कि बसपा सुप्रीमो व पूर्व मुख्यमंत्री बहन कु0 मायावती की सरकार के दौरान ही गौतमबुद्धनगर जिले का सृजन हुआ। किंतु जब जब गैर बसपा सरकारें आई यहां विकास के नाम पर सौतेला व्यवहार किया गया। गौतमबुद्ध यूनिवर्सिटी, यमुना एक्सप्रेस-वे, बुद्ध इंटरनेशल सर्किट, कासना में मांन्यवर कांशीराम मल्टी स्पेशलिटी हॉस्टिल जैसी तमाम विकास की सौगात इस जेवर विधान क्षेत्र में मिली है। उन्हांंने कहा कि किंतु अब नौजवान नौकरी के लिए इधर उधर भटक रहे हैं जब कि यूपी की भाजपा सरकार विकास का सिर्फ ढिंढोरा ही पिटती रही है। यदि जेवर विधानसभा क्षेत्र से जनता का प्यार और आशीर्वाद मिला तो जेवर क्षेत्र के खोया हुए विकास के स्वरूप को जरूर वापस लाएंगे। बसपा प्रत्याशी एडवोकेट नरेंद्र भाटी डाढा ने आज जेवर विधानसभा क्षेत्र के रोही पॉकेट-1, अलावलपुर, मंगरौली, माडलपुर, नंगला बंजारा, चौरोली, नीमका, ख्वाजपुर, थोरा, भबोकरा, दयौरार, हिमाउंपुर, चांचली और जफरगढ आदि दर्जन भर गांवों में जनसंपर्क किया। जनसंपर्क के दौरान बुजुर्गों ने आशीर्वाद दिया। इस दौरान उनके साथ सेक्टर प्रभारी डा0 लोकेन्द्र सिंह, विधानसभा अध्यक्ष नरेंद्र रन्हेरा और परिक्षित नागर, योगेश चौरौली, समयवीर फौजी, सतीश कनारसी आदि पदाधिकारी और कार्यकर्तागण मौजूद रहे।