विजन लाइव/ ग्रेटर नोएडा 
नए भूमि अधिग्रहण कानून के सभी लाभ दिए जाने की मांग को लेकर ग्रेटर नोएडा के पल्ला गांव में धरनारत DMIC और DFCC परियोजना से प्रभावित किसानों ने 30 जनवरी को महापंचायत कर लेंगे बड़ा निर्णय। किसान अधिकार युवा रोजगार आन्दोलन के आह्वान पर DMIC और DFCC परियोजना से प्रभावित किसानों को बाजार दर का 4 गुना मुआवजा, 20% प्लाट दिए जाने तथा भूमिधर और भूमिहीन किसानों के बच्चों को रोजगार दिए जाने तथा आबादियों  को ज्यों का त्यों छोड़े जाने की मांग को लेकर पिछले 42 दिन से ग्राम पल्ला में तथा 202 दिन से बोड़ाकी गांव में धरनारत किसानों ने पल्ला गांव में किसान पंचायत का आयोजन किया।किसान नेता सुनील फौजी एडवोकेट ने बताया कि आज सर्व सम्मति से सभी किसानों एवं महिलाओं ने फैसला लिया गया है. कि कल से बड़ी संख्या में क्रमिक अनशन शुरू करने का निर्णय लिया है, साथ ही किसानों ने चेतावनी दी है कि आगामी रविवार दिनांक 30 जनवरी तक किसानों की मांगों यदि पूरा नहीं किया जाता है। तो पल्ला धरना स्थल पर विशाल किसान महापंचायत कर विधान सभा चुनावों के मद्दे नजर महत्वपूर्ण ऐतिहासिक निर्णय लिया जाएगा।
इस मौके पर डीएमआईसी और डीएफसीसी से प्रभावित ग्राम पल्ला, पाली, चिठेरा, कठेरा और बोडाकी सहित डीएमआईसी से प्राभावित होने जा रहे। नए 20 गांवों एवं अंसल बिल्डर से प्रभावित 9 गांवों तथा हाई टैक बिल्डर से प्रभावित 18 गांवों और ईस्टर्न पेरिफेरल से प्राभावित 40 गांवों की कमेटियों ने भी कल से शुरू होने वाले क्रमिक अनशन में पूरा साथ देने का भरोसा दिया है। पंचायत में जय जवान जय किसान मोर्चा, किसान एकता संघ, पल्ला किसान संघर्ष समिति, अंसल व हाईटेक बिल्डर प्रतिरोध किसान मंच आदि संगठनों के प्रतिनिधि भी शामिल रहे।