नोएडा के सेक्टर-117 स्थित ओयो होटल से पुलिस ने एक फैक्ट्री मालिक का शव बरामद किया है। पुलिस को शरीर पर चोट का कोई निशान नहीं मिला और मौत के कारणों का पता लगाने के लिए शव का पोस्टमॉर्टम करवाया जा रहा है।



विजन लाइव नोएडा


मृतक की पहचान उमेश कुमार के रूप में हुई

सेक्टर-113 के थानाध्यक्ष शरद कांत ने बताया कि मृतक की पहचान उमेश कुमार के रूप में हुई है। वह सेक्टर-117 स्थित एक ओयो होटल में ठहरा था। उन्होंने बताया कि शुक्रवार की रात उमेश का शव होटल के कमरे में मिला। थानाध्यक्ष ने बताया कि उमेश का शव बिस्तर पर पड़ा हुआ था। साथ ही कहा कि मृतक के घरवालों ने पुलिस को बताया है कि वह गुरुवार रात से ही लापता था।  उन्होंने बताया कि इस मामले में मृतक के परिजनों ने गुरुवार को थाना फेस-2 में गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई थी।थानाध्यक्ष ने बताया कि मृतक सेक्टर-82 में रहता था और उसकी फेस-2 क्षेत्र में केमिकल बनाने की फैक्ट्री है। उन्होंने बताया कि मौत के कारणों का खुलासा शव का पोस्टमॉर्टम होने के बाद ही हो पाएगा।

लुक्सर जेल में बंद विचाराधीन कैदी की इलाज के दौरान मौत

गौतमबुद्ध नगर जिले की लुक्सर जेल में बंद एक विचाराधीन कैदी की इलाज के दौरान मौत हो गई। लुक्सर जेल अधीक्षक अरुण प्रताप सिंह ने बताया कि सूरजपुर थाना क्षेत्र के देवला गांव का रहने वाला आलोक (27)  चोरी के मामले में जेल में बंद था। उन्होंने बताया कि 15 जनवरी को उसकी तबीयत अचानक खराब हो गई। उसे गंभीर हालत में नोएडा के जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। वहां उसकी गंभीर स्थिति को देखते हुए उसे मेरठ मेडिकल कॉलेज भेज दिया गया।

जेल अधीक्षक ने बताया कि तबीयत ज्यादा खराब होने पर उसे वेंटिलेटर पर रखा गया था। मेरठ मेडिकल कॉलेज में इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। वह दो वर्ष से जेल में बंद था। उन्होंने बताया कि मृतक के परिजनों को सूचना दे दी गई है। शव का पोस्टमॉर्टम करवाया जा रहा है।