विजन लाइव/ नोएडा 
उत्तर प्रदेश सरकार की बिजली बिल की दर आधी करने का लाभ जिले के सात हजार किसान उपभोक्ताओं को मिलेगा। इन उपभोक्ताओं का अब बिजली बिल आधा हो जाएगा। इससे जिले के किसान उपभोक्ताओं को काफी लाभ होगा। किसान उपभोक्ता काफी समय से बिजली की दरें कम करने की मांग कर थे। निगम और सरकार पर दवाब बनाने के लिए किसान उपभोक्ता बिल जमा करने में भी पीछे हट रहे थे और निगम अधिकारी और जनप्रतिनिधियों से बिजली की दरें कम करने की मांग भी कर रहे थे। जिले में विद्युत निगम के नलकूप के करीब सात हजार उपभोक्ता है। इन उपभोक्ताओं की सबसे ज्यादा संख्या जेवर, दनकौर व दादरी क्षेत्र में है। 

जेवर क्षेत्र के किसान उपभोक्ता राजबीर रावत ने बताया कि विद्युत निगम के अधिकारी और सरकार से काफी समय से बिजली का बिल कम करने की मांग कर रहे थे। बिजली की दर अधिक होने की वजह से बिल भी जमा नहीं कर पा रहे थे। अब बिजली की दर कम होने की वजह से आसानी से बिजली का बिल जमा कर सकेंगे। 

दनकौर क्षेत्र के किसान उपभोक्ता बिल्लू नागर ने बताया कि किसान उपभोक्तओं के लिए भी बिजली की दर अधिक होने की वजह से किसान उपभोक्ता समय पर बिल जमा नहीं कर पा रहे थे। किसानों को फसल से इतनी आय भी नहीं हो पाती थी। ऐसे में किसान अपने घर का खर्च चलाए या दूसरी फसल की तैयार करें या बिजली का बिल जमा करें। जबकि अन्य प्रदेशों में बिजली की दर काफी कम है। सरकार ने बिजली की दर कम करके किसान हित में निर्णय लिया है। 

विद्युत निगम के मुख्य अभियंता वीएन सिंह ने कहा, 'जिले के किसान उपभोक्ताओं को बिजली की कम दर का लाभ मिलेगा। इसमें नलकूप के कनेक्शन के उपभोक्ताओं को ही लाभ मिलेगा। अन्य उपभोक्ताओं को लाभ मिलेगा या नहीं आदेश आने के बाद ही स्पष्ट हो पाएगा।'