विजन लाइव/ ग्रेटर नोएडा 
 ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के द्वारा शिक्षण संस्थानों एवं अस्पतालों को सस्ते दामों पर जमीन दी थी कि स्थानीय किसानों एवं शहर के लोगों को शिक्षा व चिकित्सा सुविधाएं सस्ते दामों पर एवं निशुल्क उपलब्ध कराई जाएगी। लेकिन अस्पताल एवं शिक्षण संस्थानों ने पिछले ढाई दशकों से लोगों को कोई लाभ नहीं दिया। जिसके विरोध में करप्शन फ्री इंडिया संगठन ने पैदल मार्च निकालकर हल्ला बोल प्रदर्शन कर प्राधिकरण के ओएसडी एनके सिंह को ज्ञापन सौंपा। पैदल मार्च संगठन के संस्थापक सदस्य आलोक नागर के नेतृत्व में निकाला गया। करप्शन फ्री इंडिया संगठन के संस्थापक चौधरी प्रवीण भारतीय ने बताया कि ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के द्वारा सैकड़ों शिक्षण संस्थानों एवं अस्पतालों को भूखंड सस्ते दरों पर आवंटित किए गए। जिन भूखंडों के आवंटन के दौरान प्राधिकरण लीज डीड में यह शर्त रखी थीं कि ग्रेटर नोएडा के स्थानीय किसानों एवं शहर के लोगों को निशुल्क एवं सस्ते दरों पर सुविधाएं उपलब्ध कराई जाए। लेकिन पिछले ढाई दशकों के बाद भी यहां के स्थानीय किसानों एवं शहर के लोगों को कोई भी सुविधा नहीं मिल पाई है। चौधरी प्रवीण भारतीय ने कहा कि लीज डीड के अनुसार प्रत्येक अस्पताल में 2 घंटे सुबह व 2 घंटे शाम लोगों के लिए ओपीडी फ्री रखनी होनी चाहिए। प्रत्येक स्कूल को स्थानीय किसानों के बच्चों के लिए ट्यूशन फीस में 25% छूट मिलनी चाहिए एवं सालाना फीस के नाम पर कोई भी अतिरिक्त शुल्क नहीं लिया जाना चाहिए। इस संबंध में करप्शन फ्री इंडिया संगठन के द्वारा कई बार प्रार्थना पत्र देकर लीज डीड के अनुसार सभी शर्तों को मनवाने की मांग की थी। लेकिन अभी तक कोई भी कार्यवाही नहीं हुई है। शिक्षण संस्थान व अस्पताल मालिकों की तानाशाही एवं प्राधिकरण के अधिकारियों की लापरवाही को देखते हुए संगठन एवं ग्रामीण क्षेत्र के लोगों में काफी रोष व्याप्त है। रोष को देखते हुए करप्शन फ्री इंडिया संगठन ने पदयात्रा निकालकर विरोध दर्ज किया है जल्द ही यह मांगे नहीं मानी गई तो संगठन के द्वारा भूख हड़ताल की जाएगी। इस दौरान, संजय भैया आलोक नागर शिवकुमार कसाना प्रेमराज भाटी चौधरी प्रेम प्रधान प्रो. दीपक शर्मा राकेश नागर धर्मेंद्र भाटी जीत सिंह बैसोया मा.विकल भाटी पंकज खारी नवीन भाटी देवेंद्र नागर हरेंद्र कसाना किरणपाल बैंसला नीरज भाटी नफीस अहमद रिंकू बैंसला अजय नागर निशांत तिवारी कुलबीर भाटी जितेंद्र भाटी मनीष कसाना ललित भाटी रॉबिन मंडार मौजूद रहे।