इस सफलता से काफी खुश स्वर्ण और रजत पदक विजेता चौधरी विराट अत्री ने बताया कि इस सफलता का पूरा श्रेय वह अपने माता पिता और कोच को ही देना चाहते हैं साथ ही अब वह ओलंपिक मे कराटे का शानदार प्रदर्शन करना चाहते हैं।
विराट राष्ट्रीय स्तर पर भी गोल्ड मेडल लाए और साथ ही ओलंपिक में जाकर भारत का नाम रोशन करें: चौधरी प्रियंका अत्री एडवोकेट
मौहम्मद इल्यास-"दनकौरी"/ ग्रेटर नोएडा
ग्रेटर नोएडा की एनआरआई एसडीएस रेजीडेंसी सोसाइटी निवासी विराट अत्री ने वाराणसी में आयोजित द्वितीय स्टेट कराटे चैंपियनशिप में रजत पदक जीता है। 12 दिसंबर को स्पोट्र्स कराटे एसोसिएशन ऑफ यूपी ने इस प्रतियोगिता का आयोजन कराया था। प्रदेश के कई जिलों के खिलाड़ियों ने भाग लिया था। विराट ने 10-11 आयु वर्ग की कराटे चैंपियनशिप मे जीत दर्ज कर रजत पदक अपने नाम किया है। विराट अब राष्ट्रीय स्तरीय प्रतियोगिता में हिस्सा लेंगे, जो राजस्थान के कोटा में होगी। विराट अत्री ने इसके साथ ही डिस्ट्रिक्ट चैंपियनशिप मे स्वर्ण पदक भी जीता है। अपनी इस सफलता से काफी खुश स्वर्ण और रजत पदक विजेता चौधरी विराट अत्री ने बताया कि इस सफलता का पूरा श्रेय वह अपने माता पिता और कोच को ही देना चाहते हैं साथ ही अब वह ओलंपिक मे कराटे का शानदार प्रदर्शन करना चाहते हैं। विराट की सफलता से मां चौधरी प्रियंका अत्री एडवोकेट और पिता चौधरी अरुण कुमार अत्री एडवोकेट और परिवार के अन्य लोग काफी खुश हैं।  कराटे चैंपियनशिप में स्वर्ण और रजत पदक विजेता विराट अत्री की मां चौधरी प्रियंका अत्री एडवोकेट ने विजन लाइव डिजिटल मीडिया को बताया कि जिला कराटे प्रतियोगिता में रविवार को बालक वर्ग में विराट (10) ने स्वर्ण पदक जीता है। जबकि राज्य स्तरीय कराटे  चैंपियनशिप में रजत पदक जीता है। वह  मूल रूप से खुर्जा तहसील के माचड गांव की रहने वाली हैं। किंतु अब विराट आत्री भी ग्रेटर नोएडा में परिवार के साथ रहता है। इससे पहले भी विराट अत्री कई प्रतियोगिताओं में स्वर्ण और कांस्य पदक जीत चुके हैं। उन्होंने बताया कि अब उनका सपना है कि विराट राष्ट्रीय स्तर पर भी गोल्ड मेडल लाए और साथ ही ओलंपिक में जाकर भारत का नाम रोशन करें।