उत्तर प्रदेश सरकार को सम्बोधित ज्ञापन सत्यपाल भाटी ब्लॉक अध्यक्ष जेवर व बृजेश कुमार ब्लाक मंत्री जेवर की अध्यक्षता में हेमेंद्र कुमार खण्ड शिक्षा अधिकारी जेवर के द्वारा प्रेषित किया गया

 


विजन लाइव/ ग्रेटर नोएडा 

अखिल भारतीय प्राथमिक शिक्षक संघ के आह्वान पर प्रान्तीय नेतृत्व के निर्देश के क्रम में प्रदेश के शिक्षकों की विभिन्न लम्बित मांगों के सम्बन्ध में माननीय प्रधानमंत्री भारत सरकार व माननीय मुख्यमन्त्री उत्तर प्रदेश सरकार को सम्बोधित ज्ञापन सत्यपाल भाटी ब्लॉक अध्यक्ष जेवर व बृजेश कुमार ब्लाक मंत्री जेवर की अध्यक्षता में हेमेंद्र कुमार खण्ड शिक्षा अधिकारी जेवर के द्वारा प्रेषित किया गया।  मांग पत्र की प्रमुख मांगें में -  पुरानी पेंशन योजना तत्काल बहाल की जाए, सभी राज्यों में कार्यरत संविदा शिक्षकों जैसे शिक्षा मित्र, शिक्षा कर्मी, नियोजित शिक्षक आदि का स्थायीकरण किया जाए, राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 से शिक्षक विरोधी प्रावधानों जैसे स्कूल परिसरों, स्वयंसेवी शिक्षकों की नियुक्ति, आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों के बजाय पूर्व प्राथमिक कक्षाओं के लिए प्रशिक्षित शिक्षकों की नियुक्ति  सरकार द्वारा किया जाए,  सातवें केन्द्रीय वेतन आयोग की सिफारिशों को पूरे देश में समान रूप से लागू किया जाए, प्रदेश में शिक्षकों की लम्बित पदोन्नति प्रक्रिया को बहाल किया जाए, प्रदेश के शिक्षकों का अंतर्जनपदीय स्थानांतरण कर उन्हें उनके गृह जनपद भेजा जाए, जनपद के भीतर शिक्षकों के स्थानांतरण / समायोजन की अवरुद्ध प्रक्रिया को बहाल किया जाए। उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ के प्रांतीय ऑडिटर ने कहा कि यदि मांगों का निस्तारण शासन के द्वारा शीघ्र नहीं किया गया तो अखिल भारतीय प्राथमिक शिक्षक संघ के आह्वान पर उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ के निर्देश में शिक्षक आन्दोलन के लिए बाध्य होगा। जिला संगठन मंत्री गंगाराम शर्मा ने कहा कि शासन की ढुलमुल रवैये के कारण शिक्षक समस्याओं का समाधान नहीं हो पा रहा है, शासन को इसका संज्ञान लेते हुए समस्याओं का तत्काल निराकरण किया जाए। आज के धरना प्रदर्शन ज्ञापन के कार्यक्रम में हलीम अख्तर जिलानी, अब्दुल रहमान, मुकेश चन्द, हबीबुलरहमान, मोहित कुमार, संजीव, मोहित गर्ग, महेश कुमार, संजय मौर्य, मोहम्मद जब्बार, मनीषा गुप्ता, दीपिका, आरती महेश से आरती, सुधीर कुमार, राजीव कुमार ,अलका, महेश चंद यादव,आरती मिश्रा, सीमा शर्मा, जगदीश कुमार, मोइनुद्दीन ,सालनी सारस्वत आदि शिक्षक उपस्थित रहे।