दनकौर क्षेत्र के ग्राम नवादा निवासी प्रज्ञा नागर ने नीट-2021 की परीक्षा उत्तीर्ण कर क्षेत्र का नाम रोशन किया

मौहम्मद इल्यास-’’दनकौरी’’/ग्रेटर नोएडा

दनकौर क्षेत्र के ग्राम नवादा निवासी प्रज्ञा नागर ने नीट-2021 की परीक्षा उत्तीर्ण कर क्षेत्र का नाम रोशन किया है। यह होनहार बिटिया प्रज्ञा नागर अब मेडिकल की पढाई के लिए प्रवेश पा सकेगी। प्रज्ञा नागर दनकौर क्षेत्र में पर्यावरण को बचाने के लिए अभियान चला रहे नवादा गांव निवासी व पर्यावरण संरक्षण समिति के अध्यक्ष संजय नवादा की भतीजी लगती हैं। इस मौके पर प्रज्ञा नागर ने ’’विजन लाइव’’ डिजिटल मीडिया को बताया कि दसवीं क्लास में 97.5.और 12 वी क्लास में 94.8 प्रतिशत नंबर रहे। इस कामयाबी को हासिल करने के लिए मैने 15 से 18 घंटे हर रोज पढाई है तब जाकर नीट में 650 अंक प्राप्त कर दिल्ली के सरकारी मेडिकल कॉलेजों में स्थान पक्का कर किया है। प्रज्ञा नागर ने यह भी बताया कि मम्मी पापा का भरपूर सहयोग रहा, कभी भी मुझे उन्होंने कोई दूसरा काम करने के लिए नही कहा। साथ ही अच्छा स्कूल मिला और स्कूल की पढ़ाई से हमेशा संतोष जनक रही। वहीं जैसे ही पढाई से थोडी फुर्सत मिलती मै  मम्मी के काम में भी हमेशा हाथ बटाया करती थी। उन्होंने बता कि मेरे  संजय नवादा ताऊ जी के पिताजी स्वर्गीय बाबा रामपाल की इच्छा थी, कि मैं एमबीबीएस डॉक्टर बनूं। पर्यावरण संरक्षण समिति के अध्यक्ष संजय नवादा ने कहा कि भतीजी प्रज्ञा नागर ने नीट क्वालिफाई कर गांव नवादा ही बल्कि पूरे क्षेत्र का नाम रोशन किया है। प्रज्ञा नागर ने कठिन परिश्रम कर यह मंजिल हासिल की हैं। प्रज्ञा नागर वर्तमान में संगम विहार में रह रही है और वहां रह कर उसने नीट परीक्षा-2021 की तैयारियां की है और आज नीट परीक्षा 2021 उत्तीर्ण कर एमबीबीएस डॉक्टर बनने के सपने को पूरा किए जाने के मुकाम पर पहुंच गई हैं।

 

>