देश में अमन,शांति व सद्भावना जरूरीः नंद गोपाल वर्मा

 


विजन लाइव/ककोड

बुलंदशहर व गौतमबुद्धनगर के पत्रकारों ने ककोड़ में संयुक्त रुप से भारतीय राष्ट्रीय पत्रकार महासंघ के राष्ट्रीय सचिव नंद गोपाल वर्मा के नेतृत्व में देशभर में  पत्रकारों पर हो रहे हमलो के विरोध में पैदल यात्रा निकाल कर पत्रकारों की हत्या एवं उत्पीड़न रोकने के खिलाफ आवाज बुलंद की और कहा कि लखीमपुर खीरी कांड में पत्रकार रमन कश्यप की हत्या एवं हाल ही में बागपत में पत्रकार मेहंदी हसन पर हुए कातिलाना हमला जीता जागता उदाहरण है। वरिष्ठ पत्रकार नंद गोपाल वर्मा ने कहा कि समाज, प्रदेश अथवा राष्ट्र के विकास के लिए देश में अमन शांति और सद्भावना पूर्ण माहौल बहुत जरूरी है। साथ ही प्रदेश व केंद्र सरकार से भारतीय संविधान में पत्रकारिता की अधिकारिकता सुनिश्चित किए जाने हेतु आगामी होने वाले संसद सत्र मे प्रस्ताव पास करा कर पत्रकार सुरक्षा कानून बनाए जाने की मांग भी की। भारतीय राष्ट्रीय पत्रकार महासंघ के राष्ट्रीय सचिव सामाजिक चिंतक व पत्रकार नंद गोपाल वर्मा के नेतृत्व में आयोजित अमन शांति सद्भावना यात्रा का शुभारंभ चेयरमैन जनाब कुंवर रिजवान अध्यक्ष ककोड़ नगर पंचायत ने हरी झंडी दिखाकर किया। पत्रकारों का यह विरोध प्रदर्शन एवं अमन शांति सद्भावना रैली ककोड़ कोतवाली पर जाकर समाप्त हुई, जहां पर एसआई अशोक कुमार व कसबा इंचार्ज शैलेश गौतम आदि पुलिसकर्मियों ने स्वागत किया। रैली शुभारंभ से पूर्व चेयरमैन कुंवर रिजवान एवं वरिष्ठ पत्रकार नंद गोपाल वर्मा ने वृक्षारोपण भी किया। इस मौके पर पत्रकार सुबल प्रताप सिंह, के.पी. सिंह, हरिओम सिंह, उपेंद्र सिंह भाटी, नीरज नयन यादव, प्रदीप सिंह भाटी, पत्रकार अर्जुन प्रधान, जुबेर आलम एवं संजय चौहान सहित दर्जनों पत्रकार शामिल रहे।

>