विजन लाइव/ग्रेटर नोएडा

गौतमबुद्धनगर जिला कारागार लुहकसर में सजायाफ्ता कैदी द्वारा आत्महत्या किए जाने का मामला प्रकाश में आया है। बताया गया है कि कैदी ने पंखे से फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली। कैदी को डकैती और हत्या के मुकदमे में अलीगढ़ की अदालत ने आजीवन कारावास की सजा सुनाई थी। पुलिस सूत्रों की मानें तो कैदी प्रेमिका की शादी तय होने पर अवसाद में था। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा है। पुलिस मामले की छानबीन में जुटी है। मिली जानकारी के मुताबिक बुलंदशहर के रहने वाले कुलदीप उर्फ दीपू ने गुरुवार की रात जेल के रसोईघर में पंखे से लटककर आत्महत्या कर ली। उसे जनपद अलीगढ़ के थाना बन्नादेवी क्षेत्र से script async src="https://pagead2.googlesyndication.com/pagead/js/adsbygoogle.js?client=ca-pub-1894759830288890" crossorigin="anonymous"> 10 वर्ष पूर्व डकैती एवं हत्या के मामले में गिरफ्तार किया गया था। इस मामले में कुलदीप उर्फ दीपू को अलीगढ़ की अदालत ने आजीवन कारावास की सजा सुनाई थी। 3 साल पहले उसे अलीगढ़ जेल से गौतमबुद्धनगर की लुहकसर जेल में भेजा गया था। जेल के अधिकारियों के अनुसार उसकी प्रेमिका की शादी तय हो गई थी और इस बात से वह अवसाद में था। थाना ईकोटेक-वन पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा है। पुलिस आत्महत्या के कारणों का पता लगाने का प्रयास कर रही है।