1525 मोबाईल फोन कोरियलमी कम्पनी (मूल्य लगभग पौने दो करोड रूपये) और 01 सफेदरंग की आई-20 कार नं0-एचआर-26डीआर/7651 बरामद

 




विजन लाइव/गौतमबुद्धनगर

एस0टी0एफ00प्र0 कोरियलमी कंपनी के 8990 मोबाईल फोन से भरी नोएडा से बैंगलोर जा रही कैण्टर गाड़ी को मोबाईल फोन सहित लूट लिए जाने की घटना का जनपद मथुरा पुलिस के साथ संयुक्त कार्यवाही से सफल अनावरण करते हुए 1525 मोबाईल फोन सहित 03 मुख्य अभियुक्तों को गिरफ्तार किया गया हैं। गिरफ्तार अभियुक्तों की पहचान शाहिद उर्फ सरपंच पुत्र मुबीन निवासी रैपुआ,थाना पिनगवा,जनपद नूंहु(मेवात), हरियाणा,राहुल पुत्र तैययब अली निवासी विशम्भरा, थाना शेरगढ,जनपद मथुरा और अजरूददीन पुत्र नसरूददीन निवासी शिकरावा,थाना पिनगवा,जनपद नूहु (मेवात),हरियाणा के रूप में की है। एस0टी0एफ00प्र0 ने इस बदमाशों के कब्जे से1525 मोबाईल फोन कोरियलमी कम्पनी (मूल्य लगभग पौने दोक रोड रूपये) और 01 सफेदरंग की आई-20 कार नं0-एचआर-26डीआर/7651 बरामद की है। गौरतलब है कि कोरियलमी कम्पनी के 8990 मोबाईल फोन से भरी नोएडा से बैंगलोर जा रही कैण्टर गाडी को मोबाईल फोन सहित लूट लिए जाने की घटना के संबंध में थाना फरह,जनपद मथुरा पर मु00सं0468/2021 धारा 394,328 भादवि के अनावरण एवं अभियुक्तों की गिरफ्तारी व लूटे गये मोबाईल फोन की बरामदगी हेतु एसटीएफ की विभिन्न इकाइयों / टीमों को  लगाया गया। आखिर राज कुमार मिश्रा, अपर पुलिस अधीक्षक एवं विनोद सिंह सिरोही व देवेन्द्र कुमार, पुलिस उपाधीक्षक, एसटीएफ नोएडा के नेतृत्व में निरीक्षक सौरभ विक्रम सिंह, एसटीएफ, फील्डइकाई, गौतमबुद्धनगर द्वारा टीम गठित कर अभिसूचना संकलन की कार्यवाही प्रारम्भ की गई। लूट की घटना से संबिंधत अभियुक्त रोहित धारीवाल पुत्र सतवीर निवासी फतेहपुर,थाना बिलासपुर,गुडगांव,हरियाणा, राकेश पुत्र गंगाराम निवासी ख्वासपुर थाना फर्रूखनगर, गुडगांव हरियाणा, गौरव बंसल पुत्र वीरेन्द्र बंसल निवासी तावडू जिला मेवात हरियाणा व केवल पुत्र धीरज निवासी मैनवाल थाना मानेसर जिला गुडगांव, हरियाणा को एसटीएफ की नोएडा इकाई व थाना फरह, मथुरा के सहयोग से 47 मोबाईल फोन सहित गिरफतार कर दिनांक 27.10.2021 को जेल भेजा गया था। इन अभियुक्तों से पूछताछ के दौरान प्रकाश में आए तथ्यो को विकसित करते हुए अभिसूचना संकलन की कार्यवाही की जा रही थी कि मुखबिर एवं विश्वसनीय सूत्रों से सूचना प्राप्त हुई कि नोएडा से बैंगलोर जा रही मोबाईल फोन से भरी कैण्टर गाडी को मोबाईल फोन सहित लूट लिए जाने की घटना के अभियुक्त जनपद मथुरा में आगरा-ग्वालियर बाईपास रोड से आगरा की तरफ जाने वाले हैं। इस सूचना पर उ0प्र0 एसटीएफ की नोएडा टीम द्वारा थाना फरह जनपद मथुरा की संयुक्त पुलिस टीम द्वारा त्वरित एवं प्रभावी कार्यवाही करते हुए गन्तव्य स्थान पर पहुंचकर घेराबन्दी करके उपरोक्त तीनांं ंअभियुक्तों को गिरफ्तार कर लिया गया,जिनसे उपरोक्त बरामदगी हुई। गिरफ्तार अभियुक्त राहुल उपरोक्त ने बताया कि उसके गांव विशम्भरा के साउन, शेरखान व शेरखान का भतीजा जुबैर गाडियों को सामान सहित लूट की घटनाओं को अन्जाम देते रहे है और कई घटनाऐं उसने (राहुल), जुबैर, साउन व शेरखान के साथ मिल कर भी की है । उसने यह भी बताया कि अभी वह 03-04 महीने पहले ही जेल से बाहर आया है। जेल से छूटने के बाद उसने, जुबैर व मुजाहिद, अजरूददीन, शाहिद उर्फ सरपंच व शाहरूख ने साथ मिल कर उक्त मोबाईल फोन लूट की घटना को अन्जाम देने की योजना बनाई थी। पूछताछ में यह भी बताया कि वर्ष 2019 में उसने विशम्भरा निवासी साउन, शेरखान, जुबैर, वसीम व मुनफैद निवासी राजस्थान के साथ मिल कर हैदराबाद से आगरा आ रही एक टायरों से भरी गाडी को आगरा में लूट लिया था जिसको मेरठ में बेचा था। वर्ष 2019 मेंं इन सभी ने मिलकर पूना से पानीपत जा रही टायरों से ही भरी गाडी को ग्वालियर के घाटी गांव के पास से लूटा था तथा वर्ष 2019 मेंं ंही इन लोगों ने पानीपत से पूना जा रही चॉकलेट से भरी गाडी को शिरडी, महाराष्ट्र में लूटा था। उपरोक्त घटनाओं के संबंध में और अधिक जानकारी एकत्रित की जा रही है। गिरफ्तार तीनों अभियुक्तों ने संयुक्त पूछताछ में बताया कि दिनांक 05.10.2021 कोरियलमी कम्पनी के फोन लेकर नोएडा से बैंगलोर जा रही कैण्टर गाडी को लूटने की योजना जुबैर ने राहुल व शाहरूख के साथ मिलकर बनाई।

>