विजन लाइव/ग्रेटर नोएडा

उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ जनपद.गौतमबुद्धनगर, संबद्ध अखिल भारतीय प्राथमिक शिक्षक संघ नई दिल्ली के द्वितीय चरण के आंदोलन में आज जिलाध्यक्ष विनोद नागर के नेतृत्व में मुख्यमंत्री को संबोधित शिक्षक समस्याओं का ज्ञापन क्षेत्रीय सांसद डा0 महेश शर्मा, दादरी विधायक मास्टर तेजपाल नागर व शिक्षक एम0एल0सी0 श्री चंद शर्मा को ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन सौंपते हुए प्रांतीय ऑडिटर व जिलामंत्री नरेश कौशिक ने बताया कि सरकार और शिक्षकों की कर्मठता से सरकारी स्कूलों में शिक्षा का स्तर सुधरा है। लेकिन शिक्षकों की कुछ महत्वपूर्ण समस्याओं के समाधान पर सरकार ध्यान नहीं दे रही है। उन्होंने बताया कि 1 अप्रैल 2004 के बाद नियुक्त शिक्षक कर्मचारियों की पेंशन को बंद कर दी गयी है, एक नई पेंशन स्कीम लागू कर दी गई है, जो शिक्षकों तथा कर्मचारियों के हित में नहीं है, नई पेंशन योजना को तत्काल बंद करते हुए पुरानी पेंशन योजना बहाल की जाए, 1 दिसंबर 2008 के बाद पदोन्नत प्रधानाध्यापक प्राथमिक व सहायक अध्यापक पूर्व माध्यमिक विद्यालय को 17140 न्यूनतम वेतनमान  एवं प्रधानाध्यापक पूर्व माध्यमिक विद्यालय को 18150 न्यूनतम वेतनमान दिया जाए,प्रदेश के शिक्षकों को भी कैशलेस चिकित्सा सुविधा प्रदान की जाए, मृतक आश्रित शिक्षकों के पाल्यों को योग्यतानुसार नियुक्ति प्रदान की जाए, मृतक आश्रित नियुक्त चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों कों योग्यता अनुसार उच्चीकृत पद पर नियुक्त किया जाए, प्रदेश के शिक्षामित्रों व अनुदेशकों को शिक्षक के पद पर समायोजित किया जाए, प्रदेश के शिक्षकों का आकांक्षी जनपदों से अंतर्जनपदीय स्थानांतरण एवं जनपद के अंदर स्थानांतरण एवं शिक्षकों की पदोन्नति प्रक्रिया को अतिशीघ्र प्रारम्भ किया जाए, प्रदेश के विभिन्न जनपदों के शिक्षकों का चयन वेतनमान के उपरांत वेतन विसंगति है,जिसमें वरिष्ठ शिक्षक, कनिष्ठ शिक्षकों से कम वेतनमान पा रहे हैं,जिससे आर्थिक नुकसान हो रहा है चयन वेतनमान विसंगति का शासनादेश जारी कराया जाए। उधर विधायक ने ने आश्वासन दिया कि आप लोगों के मांग पत्र को माननीय मुख्यमंत्री को प्रेषित कर दिया जाएगा और निस्तारण हेतु पूर्ण प्रयास किया जाएगा। इस अवसर पर परवेज आलम,संजीव शर्मा वरिष्ठ उपाध्यक्ष, घनानन्द शर्मा, सतेन्द्र भाटी ब्लॉक अध्यक्ष बिसरख,महेश कुमार वशिष्ठ, संजीव शर्मा ब्लॉक अध्यक्ष दादरी,दोरेन्दर राणा सहित शिक्षकगण उपस्थित रहे।