भाजपा सरकार कर रही है शिक्षकों का उत्पीड़न : मान सिंह यादव

विजन लाइव/ दादरी
उत्तर प्रदेश में भाजपा सरकार में शिक्षकों का उत्पीड़न हो रहा है और उनके हितों की अनदेखी की जा रही है। आज शिक्षक वर्ग कई समस्याओं से जूझ रहा है। लेकिन  सरकार को उनकी परवाह नहीं है। यह विचार समाजवादी शिक्षक सभा के प्रदेश अध्यक्ष एवं विधान परिषद सदस्य मान सिंह यादव ने ग्राम छपरौला में आयोजित 'संवाद से समाधान -बूथवार शिक्षकों की भूमिका' कार्यक्रम में रखें। उन्होंने कहा कि समाजवादी पार्टी ने हमेशा शिक्षकों के हित को सर्वोपरि रखा है और उन्हें सम्मान देने का काम किया है। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने मुख्यमंत्री रहते वित्तविहीन स्कूलो के शिक्षकों को मानदेय देना शुरू किया था। उन्होंने कहा कि भाजपा अपने राजनीतिक हित के लिए समाज को जाति और संप्रदाय में बांटकर जनता की बुनियादी समस्याओं से ध्यान भटका रही है। इस दौरान समाजवादी शिक्षक सभा मेरठ मंडल के प्रभारी मनोज शर्मा ने मंच का संचालन किया और कहा कि कोरोना वैश्विक महामारी के दौरान वित्तविहीन एवं निजी स्कूलों में अध्यापन का कार्य कर रहे ,शिक्षकों की आर्थिक स्थिति बहुत खराब हो गई है, शिक्षकों के सामने भूखे मरने की नौबत आ रही है, लेकिन असंवेदनशील सरकार ने राष्ट्र के भविष्य के निर्माताओं की लिए कुछ भी नहीं किया है। कार्यक्रम की अध्यक्षता सपा जिलाध्यक्ष इन्दर प्रधान ने की। कार्यक्रम में मुख्य रूप से डॉ सुदेश यादव, फकीरचन्द नागर, वीरसिंह यादव, राजकुमार भाटी, नरेंद्र नागर, जगबीर नम्बरदार,श्यामसिंह भाटी, एड0 परमेन्द्र भाटी, सुनीता यादव,रोहित बैसोया, एड0 कैलाश यादव, दयाराम शास्त्री,अक्षय चौधरी, भूपेंद्र मायचा, जय यादव, मनोज शर्मा, विकास भनौता, ललित कुमार, चमन नागर,  दीपक नागर, हैप्पी पण्डित, कुलदीप भाटी, वकील सिद्दकी, राजेश नागर, सोनू चौधरी, राहुल आर्यन, बबली भाटी, प्रशांत भाटी, विक्रांत चौधरी, सुमित शर्मा,मुकेश त्यागी, योगेश गौतम, निक्की खान आदि पदाधिकारी और कार्यकर्तागण मौजूद रहे।