विदेशी खरीद्दारों, खरीद और सोर्सिंग सलाहकारों के साथ ही बड़े घरेलू वॉल्यूम रिटेल खरीदारों के लिए आईएचजीएफ दिल्ली मेले का 52वां  संस्करण शुरू होगा

 




विजन लाइव/ग्रेटर नोएडा

 दुनिया के सबसे बड़े हस्तशिल्प मेले यानी आईएचजीएफ दिल्ली मेले का 52वां संस्करण 28 अक्टूबर, 2021 को इंडिया एक्सपो सेंटर एंड मार्ट ग्रेटर नोएडा में विदेशी खरीद्दारों, खरीद और सोर्सिंग सलाहकारों के साथ ही बड़े घरेलू वॉल्यूम रिटेल खरीदारों के लिए शुरू होगा। ईपीसीएच अध्यक्ष  राजकुमार मल्होत्रा ने पत्रकार वार्ता के दौरान बताया कि 28 अक्टूबर से शुरू हो रहे इस 4 दिवसीय भव्य आयोजन में देश भर के 1,500 से अधिक भारतीय हस्तशिल्प निर्यातक अपने होम, लाइफस्टाइल, फैशन और टेक्सटाइल उत्पादों को प्रदर्शित करेंगे। उन्होंने बताया कि आईएचजीएफ दिल्ली मेला ऑटम 2021 अपनी तरह का अनूठा मेला है और इस संस्करण के लिए 2000 से अधिक उत्पादों का 300 से अधिक विकसित डिजाइनों के साथ 12 उत्पाद वर्गों में व्यापक चयन किया गया है,जैसे. हाउसवेयर, होम फर्निशिंग, फर्नीचर, गिफ्ट व डेकोरेटिव, लैंप्स व लाइटिंग, क्रिसमस एवं फेस्टिव डेकोर, फैशन जूलरी एवं एक्सेसरीज, स्पा एवंवेलनेस, कार्पेट एवं रग्स, बाथरूम एक्सेसरीज, गार्डेन एक्सेसरीज, एजुकेशनल टॉयज़ एवं गेम्स, हाथ से बने कागज के उत्पाद एवं स्टेशनरी, चमड़े के बैग्स और इस मेले के दौरान मार्ट के परिसर के 8 हॉल और 900 स्थायी शोरूम में 650 से अधिक प्रदर्शक होंगे। ईपीसीएच के महानिदेशक डा0 राकेश कुमार ने कहा कि बीता 18 महीना बहुत ही चुनौतीपूर्ण समय रहा है, इसकी वजह से कई भौतिक मेलों को रद्द करना पड़ा और इसने ईपीसीएच को इस दौरान वैकल्पिक मार्केटिंग प्लेटफॉर्म देने के लिए प्रेरित किया और इस तरह आईएचजीएफ दिल्ली मेले के तीन संस्करणों 49वें, 50वें और 51वें का वर्चुअल माध्यम से आयोजन किया गया। उन्होंने कहा कि चूंकि दुनिया में स्थिति सामान्य हो रही है और टीकाकरण अभियान जोरों पर है तो ईपीसीएच एक बार फिर इंडिया एक्सपो मार्ट एंड सेंटर, ग्रेटर नोएडा में 28 से 31 अक्टूबर 2021 तक 52 वें आईएचजीएफ दिल्ली मेले का भौतिक रूप में आयोजन कर रहा है। उन्होंने यह भी बताया कि ईपीसीएच बी-टू-बी व्यापार प्रदर्शनियों के लिए डब्ल्यूएचओ और भारत सरकार द्वारा जारी किए गए सभी सुरक्षा प्रोटोकॉल और एसओपीज़ के साथ इस मेले का आयोजन कर रहा है। ईपीसीएच ने मेला स्थल पर प्रदर्शकों, खरीद्दारों और आगंतुकों द्वारा पालन किए जाने वाले दिशा निर्देश को निर्धारित किया है, जिसमें एंट्री पर थर्मल स्कैनिंग, कलर बैज वाइज एंट्री, फेस मॉस्क पहनना अनिवार्य, हैंड सैनिटाइजेशन मशीन, फिजिकल डिस्टेंसिंग बनाए रखना, श्वसन संबंधी शिष्टाचार, चिकित्सा सुविधाएं, आयोजन स्थल पर आइसोलेशन सेंटर, कोविड इन्फोर्समेंट ऑफिसर, आरोग्य सेतु ऐप, सीसीटीवी, समुचित स्वच्छता के साथ अन्य सेवाएं इत्यादि शामिल हैं। इस शो के आगंतुकों में पूरी दुनिया से आने वाले विदेशी खरीद्दार शामिल हैं जिनमें थोक व्यापारी, डिस्ट्रिब्यूटर्स, चेन स्टोर्स, डिपार्टमेंट स्टोर्स, रिटेलर्स, मेल ऑर्डर कंपनियां, ब्रांड के मालिक, बाइंग हाउस और डिजाइनर्स तथा पूर्वानुमान लगाने वाले सम्मिलित हैं। अमेरिका, यूएई, यूनाइटेड किंग्डम,जर्मनी, स्पेन, फ्रांस, ऑस्ट्रेलिया, नीदरलैंड, दक्षिण अफ्रीका, सऊदी अरब, तुर्की, इज़राइल, ब्राजील, कनाडा, बेल्जियम, इटली, दक्षिण कोरिया, नाइजीरिया, स्वीडन, कोलंबिया, अर्जेंटीना, ग्रीस, नामीबिया, फलस्तीन, रूस, चिली, जापान, कुवैत, सिंगापुर, डेनमार्क, घाना, न्यूजीलैंड, ऑस्ट्रिया, इक्वाडोर, हांगकांग, कतर, यूक्रेन, बांग्लादेश, मिस्र, केन्या, मैक्सिको, नॉर्वे, पनामा, पेरू, पोलैंड, सेनेगल, स्लोवाकिया, श्रीलंका, स्विट्जरलैंड, ताइवान, ट्यूनीशिया, उरुग्वे, वियतनाम, बहरीन, बोलीविया, चीन, कांगो गणराज्य, कुराकाओ, फिजी, ग्वाटेमाला, आइसलैंड, जॉर्डन, लिथुआनिया, मॉरीशस, मोजाम्बिक, नेपाल, पुर्तगाल, प्यूर्टो रिको, रीयूनियन, रोमानिया, सेशेल्स, स्लोवेनिया, त्रिनिदाद ऐंड टोबैगो जैसे 90 देशों समेत कई अन्य ने इस मेले में आने के लिए रजिस्ट्रेशन कराया है। इस मेले में आने के लिए जिन कंपनियों/डिपार्टमेंट स्टोर्स ने पहले ही पुष्टि कर दी है उनमें अमाकेट सिलास कोलगेंटेस, अर्जेंटीनाय, एमएमपी ट्रेडिंग प्राइवेट लिमिटेड, ऑस्ट्रेलियाय पोमैक्स बेल्जियम सा ऐंड लकी ब्लू ट्रेडर्स, बेल्जियमय अल्ट्रामरीन ऐंड ब्लू गार्डेनिया, ब्राजीलय हॉलमैन स्पा, चिलीय एशियाटिक डेकोरसियॉन कोलंबियाय एपी प्रोडक्शन एपीएस, डेनमार्कय जैक्स पेर्गे और पेरिन, फ्रांसय फिलिपी जीएमबीएच जर्मनी और रहौस अटलांटिस मोबेल एंड मीडिया जीएमबीएच जर्मनीय कासा वाई एस्टिलो, एसएए ग्वाटेमालाय बदीम टीएलवी इसराइलय लकी गियोएली इन अर्जेन्टो, इटलीय एए शाकिर, केन्याय इम्बारो होम एंड फैशन बीवी, इम्बारो होम एंड फैशनए मक्की, जिजल्स्त्रा बीवी, नीदरलैंड्सय इंडो नेचुरल्स नॉर्वेय अल्ताबेह कंपनी, कॉरपोरेट स्टेज पनामाय डोमार्केट रिटेल कंपनी और शॉपिंग लाइव रशियन फेडरेशन, मीजान अल रबिया जनरल ट्रेडिंग कंपनी और जेद्दा सिस्टम्स ट्रेडिंग, सऊदी अरबय माबिबक होलसेल, साउथ अफ्रीकाय कैल्मा हाउस और नुएवो बोर्गिया एसण्एण् स्पेनय विखोल्म फॉर्म एबी और नॉर्डलीज डिजाइन एबी स्वीडनय लैंडमार्क ग्रुप, होमसेंटर एलएलसी और होम्स आर यूज, लाल्स ग्रुप, संयुक्त अरब अमीरातय रेक्स लंदन और हरवुड इंटरनेशनल प्रोडक्ट्स लिमिटेड यूनाइटेड किंगडम, मिडवे सेल्स, वेबेड स्फीयर इंक और यूटरमोस्ट कंपनी यूनाइटेड स्टेट्स और कई अन्य शामिल हैं। मेले में प्रमुख भारतीय रिटेल/ऑनलाइन ब्रांड अमेजन इंडिया, रिलायंस ब्रांड्स लिमिटेड, लैंडमार्क ग्रुप इंडिया,फैब इंडिया, प्रैक्सिस होम रिटेल लिमिटेडए /होम बाइ नीलकमल लिमिटेड, आदित्य बिड़ला फैशन एवं रिटेल लिमिटेड, फर्नीचरवाला, वेस्टसाइड,द बॉम्बे स्टोर, होम टाउन, गोदरेज इंटेरियो, इंडिया बाजार, सिग्निफाई इंडिया जो पहले फिलिप्स लाइटिंग था, फ्यूचर ग्रुप, आर्चीज, कलारा, वन स्टॉप रिटेल प्राइवेट लिमिटेड, शॉपर्स स्टॉप रिलायंस रिटेल अजियो बिजनेस, होम सेंटर आदि हैं। आईएचजीएफ मेले में दुनिया भर से खरीदार आना पसंद करते हैं क्योंकि यह भारत जो उत्पाद पेश करता है वो उत्कृष्ट रेंज, आकर्षक मूल्य, कई किस्मों, विशिष्ट गुणवत्ता और नई प्रोडक्ट लाइनों से परीपूर्ण हैं। डा0 कुमार ने बताया कि पूर्वोत्तर के हस्तशिल्पों, राजस्थान, लद्दाख, जम्मू और कश्मीर, बिहार और दक्षिण के क्षेत्रों के पवेलियन विदेशी खरीद समुदाय के लिए मुख्य आकर्षणों में से एक होंगे। इस दौरान विभिन्न महत्वपूर्ण विषयों पर नॉलेज सेमिनार भी आयोजित किए जाएंगे जैसे. ट्रेंड ऐंड फोरकास्ट. हील, होप ऐंड हैप्पीनेसः हैंडिक्राफ्ट इन पोस्ट पैंडेमिक वर्ल्ड, साइबर सुरक्षा और सक्रिए उपायों, और पैकेजिंग सॉल्यूशन फॉर हैंडिक्राफ्ट सेक्टर पर। उन्होंने बताया कि चालू वित्त वर्ष 2021.22 की पहली छमाही अप्रैल.सितंबर के दौरान हस्तशिल्प का निर्यात 15995.73 करोड़ रुपये का हुआ है,जिसमें बीते वर्ष की इसी अवधि की तुलना में 60.34 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गई है।

>