सपा ने दादरी विधानसभा क्षेत्र से चुनव लडने की कतार में शामिल नेताओं की परैड कराई

 


भाजपा की जनविरोधी नीतियों से त्रस्त जनता एक बार फिर से अखिलेश यादव को मुख्यमंत्री बनते देखना चाहती हैः इन्दर प्रधान

मौहम्मद इल्यास-’’दनकौरी’’/ग्रेटर नोएडा

जैसे जैसे उत्तर प्रदेश में चुनाव नजदीक आते जा रहे हैं, हर राजनीतिक दल चुनाव की तैयारियां तेज करता जा रहा है। आम आदमी पार्टी ने दादरी और जेवर विधानसभा क्षेत्र में सबसे पहले प्रत्याशी घोषित करते हुए पत्ते खोल दिए हैं। दूसरे की ओर बसपा ने भी इन दोनो विधानसभा क्षेत्रों में अपने प्रत्याशियों की घोषणा हाल में ही हैं। इनमें दादरी से मनवीर भाटी तो जेवर से नरेंद्र डाढा को बसपा ने विधानसभा प्रभारी बनाया हैं। इसी क्रम में कांग्रेस और भाजपा भी प्रत्याशियों की घोषणा देर सबेर करेंगे। जब कि सपा, रालोद और कई दूसरे छोटे दल गठबंधन होने न होने की मंझधार के बीच ही डोलते हुए नजर आ रहे हैं। वैसे सपा ने औपचारिक तौर पर चुनाव की तैयारियां शुरू कर दी है। सपा जिलाध्यक्ष ने दादरी विधानसभा क्षेत्र से चुनव लडने की कतार में शामिल नेताओं की परैड कराई है। इसी क्रम में समाजवादी पार्टी के जिलाध्यक्ष इन्दर प्रधान की अध्यक्षता में विधि विहार सेक्टर पाई 1 में आगामी विधानसभा चुनाव में दादरी विधानसभा से समाजवादी पार्टी से चुनाव लड़ने के लिए आवेदन करने वालों की एक समन्वय बैठक आयोजन किया गया। बैठक में उपस्थित आवेदनकर्ताओं ने प्रत्याशी घोषित होने पर एकजुटता से पूरी ईमानदारी और मेहनत के साथ चुनाव लड़ा कर उसे विजयी बनाने तथा एकबार फिर से अखिलेश यादव को मुख्यमंत्री बनाने का संकल्प लिया। इस मौके पर जिलाध्यक्ष इन्दर प्रधान ने कहा कि आज भाजपा की जनविरोधी नीतियों से त्रस्त जनता एक बार फिर से अखिलेश यादव को मुख्यमंत्री बनते देखना चाहती है। उत्तर प्रदेश में भाजपा सरकार के गठन के बाद से प्रदेश में अराजकता का माहौल है और राज्य का विकास पूरी तरह  ठप्प हो गया है। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ केवल सपा सरकार के कामों का फीता काटकर उन्हें अपना बताने का काम कर रहे है। उन्होंने कहा कि इस बार समाजवादी पार्टी एकजुट होकर पूरी ताकत से चुनाव लड़ेगी और जिले की सभी सीटों पे कब्जा करेगी। बैठक में फकीरचन्द नागर, राजकुमार भाटी, जिला महासचिव सुधीर तोमर, सुधीर भाटी, श्यामसिंह भाटी, बिजेंद्र नागर, प्रमेन्द्र भाटी एडवोकेट, अतुल शर्मा एडवोकेट, उपदेश नागर, चौधरी शौकत अली चेची, अक्षय भाटी, अजीत भाटी आदि टिकट की दौड में शामिल सभी कार्यकर्ता शामिल रहे।


पैराशूट पर भी लग सकती है, मुहर

 


चुनाव कोई भी हो, अक्सर नेताओं कें दलबदल की भगदड देखी जाती है। अब यूंकि उत्तर प्रदेश विधानसभा-2022 सिर पर हैं प्राय हर दल में मौका परस्त नेताओं की उठक बैठक शुरू हो गई है। गौतमबुद्धनगर में बात यदि समाजवादी पार्टी की करें तो दादरी विधानसभा क्षेत्र में कई नेता ऐसे हैं जो समाजवादी पार्टी में शामिल हुए हैं। जब कि पुराने सपाई दादरी विधानसभा क्षेत्र में चुनाव की तैयारियों को लेकर जीन जान से लगे हुए थे। यदि दूसरे दल छोड कर समाजवादी में शामिल हुए दादरी विधानसभा क्षेत्र के नेताओं पर गौर करें तो पीतांबर शर्मा कांग्रेस छोड कर समाजवादी में शामिल हुए। उपदेश नागर बसपा से और हाल ही में आम आदमी पार्टी छोड कर प्रमेंद्र भाटी एडवोकेट तथा भाजपा छोड कर पुनः समाजवादी पार्टी में अतुल शर्मा एडवोकेट शामिल हुए हैं। ग्रेटर नोएडा में समाजवादी पार्टी जिलाध्यक्ष इंदर प्रधान में जिन दादरी विधानसभा के टिकटार्थियों की बैठक बुलाई उनमें पीतांबर शर्मा का नाम शायद नही है। वैसे चर्चा है कि पीतांबर शर्मा भी टिकट की दौड में बने हुए हैं। इन दूसरे दलों को छोड कर समाजवादी में आए नेताओं को छोड कर सभी पुराने टिकट के दावेदारों के सपाईयों के मांथे पर चिंता की लकीर देखी जा सकती हैं कि कंही पैराशूट अचानक से न आकर गिर जाए। यदि ऐसा हुआ तो फिर कहीं के नही रहेंगे?