विजन लाइव/ग्रेटर नोएडा

दनकौर कोतवाली एरिया की बिलासपुर चौकी पुलिस टीम ने चार घण्टे के भीतर परिवार से बिछड़े 10वर्षीय छात्र को  100 किलोमीटर दूर परिजनों को ढूंढ कर छात्र को उसके परिवार से मिलाया। मिली जानकारी के अनुसार अलीगढ़ जिले के खैर निवासी प्रताप सिंह का 8 वर्षीय छात्र अपनी माँ के साथ रेल अपने घर से दनकौर कोतवाली एरिया के बुलन्दखेड़ा गाँव मे अपने रिस्तेदार के यहाँ आ रहा था । रेल में अधिक भीड़ होने के चलते वह भी अन्य यात्रियों के साथ दनकौर रेलवे स्टेशन उतर गया था। छात्र प्रियांशु की माँ ने अपने बेटे को रेलवे स्टेशन पर तलाश किया, मगर कही नही मिला। छात्र की माँ ढूढ़ते हुए वापस अपने गाँव चली गयी। बता दे कि खेरली नहर तिराहे पर बिलासपुर पुलिस चौकी में तैनात सब इंस्पेक्टर नसीम अहमद,हेड कांस्टेबल मदन सिंह व सिपाही अनुज व प्रशांत देशवाल पुलिस टीम  यातायात व्यवस्था व वाहन चेकिंग कर  रहे थे तभी उन्होंने एक 10 वर्षीय बच्चा रोते हुए देखा और बच्चे से जानकारी ली । पुलिस टीम ने उक्त बच्चे के परिजनों के बारे में आसपास के लोगो से पूछताछ  की  मगर परिजनों का कोई पता नहीं लगा। छात्र ने अपना नाम प्रियान्शु खैर चंडौस का रहने वाला बताया। पुलिस ने खैर चंडौस थाना पुलिस को उक्त मामले की जानकारी दी और छात्र के परिजनों को फ़ोन पर सूचना दी। बिलासपुर चौकी में कार्यवाहक उपनिरीक्षक नसीम अहमद ने बताया कि छात्र प्रियांशु खैर चंदौस का रहने वाला है। छात्र के परिजनों को तलाश कर उनको सुपर्द कर दिया गया है।छात्र के परिजनों ने दनकौर कोतवाली पुलिस टीम की जमकर  सराहना की।