गेट नंबर 1 से अंदर आने पर सीसीटीवी कैमरे में कैद हुए जुआरियों को पुलिस ने दबोचा
मौहम्मद  इल्यास- "दनकौरी"/ ग्रेटर नोएडा
डेल्टा टू में ऑटो में सवार जुआरियों को आरडब्लूए की सूझबूझ के चलते हुए दबोच लिया गया । आरडब्लूए के इस सराहनीय कार्य की सेक्टरवासियों ने मुक्त कंठ से प्रशंसा की है।
    दिनांक 19/8/2021 रात्रि 11:00 बजे सेक्टर डेल्टा टू के अंदर एक ऑटो मे सवार होकर कुछ लोग सेक्टर के अंदर गलत इरादे से गेट नंबर 1 से अंदर आ रहे थे, जो कि सेक्टर के अंदर लगे हुए सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गए। जिनमे कुछ लोग सेक्टर के अंदर कंप्लिशन में रहते है और कुछ लोग बाहर सेक्टरो में रहते है, क्योंकि अभी डेल्टा टू के अंदर 32 नए कैमरे आरडब्ल्यूए के द्वारा लाइव कराए गए थे। यह सभी कैमरे डेल्टा टू के अध्यक्ष अजब सिंह प्रधान के मोबाइल पर भी लाइव हो रहे हैं जब उनकी जानकारी अध्यक्ष अजब सिंह प्रधान को लगी तो अध्यक्ष  ने उपाध्यक्ष मनीष भाटी बीडीसी को फोन किया और कहा कि सेक्टर के अंदर कुछ अराजक तत्व ग़लत नियत से घूम रहे है , इन पर निगरानी की जाए । आरडब्लूए उपाध्यक्ष मनीष भाटी बी.डी.सी ने बड़ी सूझ बूझ के साथ सेक्टरवासियों की सुरक्षा को मददेंनज़र रखते हुए बड़े साहस से स्कूटी पर सवार होकर पूरे सेक्टर का राउंड लगाया तो यह 6 लोग आई ब्लॉक के पार्क में शराब पीकर जुआ खेलते हुए पकड़े गए। मनीष भाटी के द्वारा 112 पर फ़ोन किया और औद्योगिक क्षेत्र देवला चौकी इंचार्ज सुनील यादव को घटना को पूरी तरह अवगत कराया। चौकी इंचार्ज टीम के साथ डेल्टा 2 आई ब्लाक पार्क मे पहुंचे  और इन सभी जुआरियों को मौके से गिरफ्तार किया, जिनकी पहचान प्रेम यादव झांसी,आसाराम महोबा ,विशाल साकीपुर ,गणपत महोबा ,शाहिद महोबा,सुरेश कुमार महोबा ,के रूप में हुई और इन सभी से 2333 रुपए, एक ऑटो और 5 मोबाइल बरामद किए गए हैं। आरडब्लूए उपाध्यक्ष मनीष भाटी बी.ड़ी.सी. ने "विजन लाइव" डिजिटल मीडिया को बताया कि इन सभी को औद्योगिक क्षेत्र चौकी इंचार्ज के हवाले कर दिया गया है 
 यह  सेक्टर डेल्टा टू के अंदर लगे कैमरो के द्वारा 1 महीने के अंदर दूसरी घटना पकड़ में आई है, ये 6जुआरिया डेल्टा-2 में किसी घटना को अंजाम देने की नीयत आये थे ,लेकिन बुरी तरह से फँस गये। आरडब्लूए डल्टा टू की ओर से गौतमबुद्धनगर पुलिस कमिश्नर से मांग है कि  डेल्टा-2 में  भी अलग से पुलिस चौकी बनाई जानी चाहिए ,जिससे इस तरह की घटनाओं पर अंकुश लग सके ।