महंगाई को लेकर केन्द्र व उत्तर प्रदेश की गूंगी बहरी सरकार के विरोध मे पैदल मार्च कर रहे कांग्रेसियों को पुलिस ने खदेड डाला

 


भाजपा सरकार सिर्फ सत्ता की भूखी है, सत्ता हासिल करने के लिए लोकतंत्र का भी घोट रही है, गलाः शाहबुद्दीन

 



विजन लाइव/गौतमबुद्धनगर

 नोएडा महानगर कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष शाहबुद्दीन के नेतृत्व में आज  0प्र0 कांग्रेस कमेटी की प्रभारी व महासचिव प्रियंका गांधी व उत्तर प्रदेश अध्यक्ष  अजय कुमार लल्लू के निर्देश पर  पेट्रोल,डीजल, रसोई गैस की बढ़ती कीमतों और आम उत्पादों की महंगाई को लेकर केन्द्र व उत्तर प्रदेश की गूंगी बहरी सरकार के विरोध मे पैदल मार्च कर रहे कांग्रेसियों को पुलिस ने खदेड डाला। उधर सरकार की इस तानाशाही के खिलाफ कांग्रेस कार्यकर्ता सडक पर ही धरने पर बैठ गए। नोएडा महानगर कांग्रेस अध्यक्ष शाहबुद्दीन ने बताया कि नोएडा सेक्टर 19 के सामुदायिक केंद्र से सिटी मजिस्ट्रेट कार्यालय सैक्टर 19 तक बैल गाड़ी को लेकर पैदल.मार्च करना था, लेकिन पुलिस ने बदतमीजी व ज्यादती करते हुए महिलाओं को भगा दिया और बुग्गी का प्रयोग करने की इजाजत नहीं दी। नोएडा महानगर कांग्रेस कमेटी प्रवक्ता पवन शर्मा ने बताया कि पुलिस ने यूपी की योगी सरकार के इशारे पर कांग्रेसियों के साथ बदतमीजी की और नोएडा कांग्र्रेस शहर अध्यक्ष शाहबुद्दीन को धक्का देकर गिरा दिया तथा कुर्ता भी फाड़ दिया। कांग्रेस कार्यकर्ताओ को सामुदायिक केंद में बंद कर दिया। पुलिस की इस बदसुलूकी से शहर अध्यक्ष के नेतृत्व में सभी कार्यकर्ता वहीं धरने पर बैठ गए और सरकार व पुलिस विभाग के खिलाफ नारे लगाए। तत्पश्चात एडीसीपी कुमार रणविजय सिंह धरना स्थल पर पहुंचे तथा वहीं पर उन्होंने सिटी मजिस्ट्रेट को ज्ञापन दिलवाया।  इस विरोध प्रदर्शन में कांग्रेस के सभी प्रकोष्ठों के अध्यक्ष एवं पदाधिकारी शामिल हुए। यह विरोध मार्च सिटी मजिस्ट्रेट कार्यालय पर सिटी मजिस्ट्रेट को ज्ञापन देकर खत्म करना था। ज्ञापन देते हुए महानगर अध्यक्ष शाहबुद्दीन ने बताया कि जब से भाजपा सरकार यूपी में आई है, बेतहाशा महंगाई लाई है। पिछले एक साल में महगाई ने अपने सारे रिकॉर्ड तोड़ने के साथ साथ आम जनता की कमर भी तोड़ दी है। भाजपा की केंद्र व राज्य सरकार इस और आंखे मूंदकर व कानों में रुई डाल कर बैठी हुई है। जनता पट्रोल, डीज़ल, गैस व खाद्य पदार्थों की बेतहाशा बढ़ोतरी से परेशान है। कांग्रेस हर दिन सरकार को जगाने का काम कर रही है, लेकिन यह सरकार ढीठ हो चुकी है। अब यह मामला जनता की अदालत में है और फैसला उसी को करना होगा कि ऐसी सरकार को उखाड़ फेंकें। कांग्रेस ही है जो पिछले 4 सालों से जनता की आवाज बनकर सड़क पर है। भाजपा सरकार ने कुरुरता की सारी हदें पर कर दी हैं। अब पुलिस को आगे करके कांग्रेस को डराया जा रहा है। यह सरकार सिर्फ सत्ता की भूखी है, सत्ता हासिल करने के लिए लोकतंत्र का गला भी घोट रही है। इस विरोध प्रदर्शन में शामिल पदाधिकारियों अध्यक्ष शहाबुद्दीन, दिनेश अवाना, राजकुमार भारती, पवन शर्मा, गौतम अवाना, लियाकत चौधरी, सतेंद्र शर्मा, रामकुमार तंवर, ललित अवाना, उषा शर्मा,  राजकुमार शर्मा, प्रमोद शर्मा, डॉ इमरान जुबैर, राजकुमार मोनू, यतेंद्र शर्मा, संजय तनेजा, सलौनी सोलंकी, कंचन, डा0 सीमा, हबेर नाथेनियल, उपदेश श्रीवास्तव, वीरो देवी, मोहम्मद गुड्डू, ज्योति पाल, वीरेन्द्र मुखिया, नेत्रपाल अवाना, विक्रम चौधरी, जावेद खान, शंकर कृष्ण, अशोक चौहान आदि दर्जनों कार्यकर्ता उपस्थित रहे।