जन समस्याओं का शीघ्र समाधान नहीं कराया गया तो राष्ट्रीय लोक दल को जन आंदोलन करने के लिए बांधय होना पड़ेगा और जिसकी जिम्मेदारी सरकार की होगीः भूपेंद्र चौधरी

 






विजन लाइव/गौतमबुद्धनगर

जिलाधिकारी कार्यालय सूरजपुर पर राष्ट्रीय लोक दल के पदाधिकारी एवं कार्यकर्ताओं ने बढ़ती हुई महंगाई, खराब कानून व्यवस्था और उत्तर प्रदेश में महिलाओं को पर हो रहे अत्याचारों को लेकर उपजिलाधिकारी प्रसून द्विवेदी को ज्ञापन सौंपा। ंमहामहिम राज्यपाल उत्तर प्रदेश लखनऊ के नाम संबोधित ज्ञापन में कहा गया है कि रालोद कार्यकर्ता आपका ध्यान उत्तर प्रदेश में विकराल रूप धारण करती हुई जनसमस्याओं की ओर दिलाना चाहते हैं जो निम्न प्रकार हैं डीजल पेट्रोल के रेट किसान मजदूर व आम जनता की पहुंच से बाहर हो गए हैं रसोई गैस की कीमतें आसमान छू रही है इन सब की कीमतें कम की जाएं जिससे आम जनता को राहत मिले और किसानों को डीजल पर सब्सिडी दी जाए, किसानों को खेती के लिए बिजली की व्यवस्था मुक्त की जाए और आम आदमी को 300 यूनिट बिजली फ्री दी जाए, बढ़ती हुई महंगाई को देखते हुए खाद्य पदार्थ के बढ़ते हुए रेट पर तुरंत रोक लगाई जाए,् गन्ने का भुगतान मय ब्याज तुरंत कराया जाए, बढ़ती बेरोजगारी दूर करने के लिए खाली पड़े हुए पद तुरंत भरे जाएं, कोरोना के दौरान छोटे दुकानदारों व्यापारियों का बिजली बिल माफ किया जाए, कोरोना के कारण जिन परिवारों ने अपनों को खोया है उन परिवारों की आर्थिक मदद की जाए, उत्तर प्रदेश में पंचायत चुनाव के चलते सत्तारूढ़ दल के नेताओं द्वारा महिलाओं के चीर हरण की न्यायिक जांच कराई जाए। गौतमबुद्धनगर राष्ट्रीय लोक दल जिलाध्यक्ष भूपेंद्र चौधरी ने कहा कि अगर प्रदेश सरकार द्वारा उपरोक्त जन समस्याओं का शीघ्र समाधान नहीं कराया गया तो राष्ट्रीय लोक दल को जन आंदोलन करने के लिए बांधय होना पड़ेगा और जिसकी जिम्मेदारी सरकार की होगी। इस मौके पर जिलाध्यक्ष भूपेंद्र चौधरी, वरिष्ठ नेता गीता निगम, क्षेत्रीय उपाध्यक्ष जनार्दन भाटी, महानगर अध्यक्ष विजेंद्र यादव, हरवीर सिंह तालान,ओमकार नागर, मनवीर भाटी, डॉक्टर इरफान जायसवाल, महेश बरेला, शाहिद चौधरी, मुकेश दुबे, राज सिंह फौजी, सत्यपाल नेताजी, नवीन चौधरी, पवन चौधरी, किशन सिंह चौहान, अकरम खान, मास्टर जाकिर, साहिल आजाद, सचिन, चांद मोहम्मद, साबिर अली, खालिद खान, नौशाद चौधरी आदि पदाधिकारी और कार्यकर्तागण उपस्थित रहे।