बिसरख पुलिस ने हनीट्रैप में फंसा कर लोगों से पैसे ठगने के मामले में महिला समेत 2 दबोचे


  

विजन लाइव/ग्रेटर नोएडा वेस्ट

पुलिस ने हनीट्रैप में फंसा कर लोगों से पैसे ठगने वाले गैंग का खुलासा किया है। बिसरख कोतवाली के तहत पकड़े गए आरोपियों की पहचान अमित कुमार निवासी मोदीनगर गाजियाबाद और शिवानी निवासी पंचशील कॉलोनी गौर सिटी 2 ग्रेटर नोएडा वेस्ट के रूप में हुई है। इस गैंग के शिकार हुए एक व्यक्ति ने पुलिस से शिकायत की थी। इसके बाद पुलिस ने गैंग का खुलासा किया है। पुलिस के मुताबिक पकड़े गैंग में शामिल महिला शिवानी सोशल मीडिया के जरिए लोगों से दोस्ती करती थी। इसके बाद वह लोगों को अपने जाल में फंसा कर फ्लैट पर मिलने के लिए बुलाती थी। इसी दौरान पीड़ित को रेप के झूठे मुकदमे में फंसाने की धमकी देकर उनसे मोटी रकम वसूली जाती थी। डर की वजह से पीड़ित इनके झांसे में आकर रुपये देकर चले जाते थे। पुलिस ने बताया कि कुछ दिनों पहले इस गैंग का शिकार हुए पीड़ित व्यक्ति ने बिसरख कोतवाली में मुकदमा दर्ज करवाया था। पीड़ित ने पुलिस को बताया था कि गैंग में शामिल महिला ने उसे अपने जाल में फंसा कर अपने ग्रेनो वेस्ट में स्थित फ्लैट पर मिलने के लिए बुलाया है। इसी बीच महिला ने साथी अमित को भी बुला लिया। इसके बाद दोनों ने उसे रेप के झूठे मुकदमे में फंसाने की धमकी देकर पांच लाख मांग की। किसी तरह पीड़ित इस गैंग के चंगुल से बचकर बाहर आया और पूरी घटना की जानकारी पुलिस को दी। इसके बाद पुलिस ने गैंग में शामिल महिला शिवानी और उसके साथी अमित को गिरफ्तार कर घटना का खुलासा किया है। पुलिस ने दावा किया है कि आरोपी महिला शिवानी जीवनसाथीडॉटकॉम पर भी लोगों से दोस्ती कर उन्हें अपने जाल में फंसा लेती थी। इसके बाद उनसे मोबाइल और चैटिंग के जरिए बात करती थी। इसी दौरान पीड़ित को अकेले में मिलने के लिए बुलाती थी। इस बीच यह गैंग पीड़ित को अपना शिकार बनाता था।