शादी का झांसा देकर शारीरिक संबंध और फिर प्रेग्नेंट होने पर गर्भपात करा दिया गया

 


पुलिस आयुक्त गौतमबुद्धनगर से मांगः- उक्त आरोपी युवक और संबंधित दरोगा मिल कर साजिश रचते हुए उसका जीवन बर्बाद कर दिया है इसलिए थानाध्यक्ष थाना सेक्टर-20 नोएडा को आदेशित किया जावे कि वह प्रार्थिया की रिपोर्ट दर्ज करते हुए उक्त लोगों के खिलाफ कानूनी कार्यवाही करने की कृपा करें।

>







विजन लाइव/गौतमबुद्धनगर

नोएडा के थाना- सेक्टर 20 के तहत शादी का झांसा देकर शारीरिक संबंध बनाए और फिर प्रेग्नेंट होने पर गर्भपात करा दिया गया। यही नहीं युवक ने अश्लील वीडियो और फोटो भी बना लिए हैं और अब उन्हें सार्वजनिक किए जाने की धमकियां दी जा रही हैं। यह आरोप एक युवती ने पुलिस आयुक्त गौतमबुद्धगर को लिखे पत्र में लगाए हैं।  नोएडा की जे-.जे- कालौनी में रहने वाली एक 19 वर्षीय युवती ने पुलिस आयुक्त गौतमबुद्धनगर को शिकायती पत्र में अवगत कराया है कि करीब 2 वर्ष पूर्व आमिर निवासी नोएडा उसे शादी का झांसा देकर बहला फुसला ले गया था। युवक ने उसे हरौला सेक्टर-5 नोएडा में केला गोदाम के पास एक किराए के मकान में रखा था। इसी दौरान वह प्रग्नेंट भी हुई किंतु दवाई खिला कर गर्भपात तक कर दिया। एक बार फिर ज बवह गर्भवती हुई तो फरवरी-2021 में शादी के लिए कहा। किंतु शादी के नाम पर उसे सिर्फ दिलासा ही मिली। सब ओर से निराश और हताश होने पर इस मामले की शिकायत पुलिस को दी गई। इसी बीच युवक ने नारियल के पानी में कुछ घोल कर उसे पिला दिया। तबियत खराब होने पर पहले उसे निकट के डॉक्टर के यहां ले जाया गया और जब हालत ज्यादा हो गई तो युवके परिजन एक अस्पताल में ले जाए। पत्र में प्रार्थनी ने पुलिस आयुक्त को यह भी अवगत कराया है कि जब अस्पताल में इलाज के दौरान उसे होश आया तो पता चला कि गर्भ मे पल रहा 4 महीने बच्चे को गर्भपात करा कर खत्म करा दिया गया हैं। युवक ने उसके कई अश्लील वीडियो और फोटो बना रखे हैं और शिकायत या कार्रवाई किए जाने की बात पर इन्हें सार्वजनिक किए जाने की धमकी भी देता है। पत्र में यह भी कहा गया है कि उक्त युवक यहां तैनात एक दरोगा की गाडी चलाता है। यही कारण है कि उक्त दरोगा भी पीडिता को मिलने वाले इंसाफ की राह में बाधक साबित हो रहे हैं। अब दरोगा और आरोपी युवक की ओर से कहा जा रहा है कि तेरे पास कोई सुबूत नही है, सारे सुबूत मिटवा दिए गए हैं, >तू आमिर का कुछ भी नही बिगाड सकती है। पीडित युवती ने पत्र में पुलिस आयुक्त गौतमबुद्धनगर से मांग की है कि उक्त आरोपी युवक और संबंधित दरोगा मिल कर साजिश रचते हुए उसका जीवन बर्बाद कर दिया है इसलिए थानाध्यक्ष थाना सेक्टर-20 नोएडा को आदेशित किया जावे कि वह प्रार्थिया की रिपोर्ट दर्ज करते हुए उक्त लोगों के खिलाफ कानूनी कार्यवाही करने की कृपा करें। इस शिकायती पत्र की प्रतियां पुलिस आयुक्त गौतमबुद्धनगर के साथ साथ मुख्यमंत्री उत्तर प्रदेश, डीजीपी उत्तर प्रदेश और राष्ट्रीय महिला आयोग नई दिल्ली, राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग नई दिल्ली को भी प्रेषित की गई हैं।