विजन लाइव/ लखनऊ 

दक्षिणी-पश्चिमी मानसून करीब पांच दिन के अंतराल के बाद एक फिर उत्तर प्रदेश पर मेहरबान हो गया है। मौसम निदेशक जे.पी.गुप्त ने बताया कि शुक्रवार को मानसून ने लखनऊ समेत पूर्वी यूपी के अधिकांश हिस्सों में बारिश दी है। पश्चिमी यूपी में मानसून मेरठ तक पहुंच गया है। बाकी पश्चिमी जिलों में भी जल्द ही मानसून पहुंच जाएगा। 

इस बीच मौसम विभाग ने शनिवार 19 जून को पूर्वी उ.प्र. के अधिकांश इलाकों में कहीं भारी तो कहीं बहुत भारी बारिश होने की चेतावनी जारी की है। पूरे प्रदेश में 21 जून तक कहीं हल्की तो कहीं सामान्य बारिश का सिलसिला जारी रहेगा। बीते 24 घंटों के दौरान पूर्वी व पश्चिमी यूपी में कहीं हल्की तो कहीं सामान्य बारिश हुई। पूर्वी यूपी में कहीं-कहीं भारी बारिश होने के भी समाचार मिले हैं। इस दरम्यान प्रदेश में सबसे अधिक 18 सेंटीमीटर बारिश मीरजापुर में रिकार्ड की गई। इसके अलावा वाराणसी के राजघाट में 13, सोनभद्र के रिहंध बांध पर 11, वाराणसी में 10, प्रयागराज के करछना और मेजा में नौ-नौ, सोनभद्र के घोरवाल और मेठर में 8-8, प्रयागराज के हण्डिया, गोरखपुर के मुखलिसपुर में सात-सात, खीरी के धौरहरा में 6, सोनभद्र के चोपन में पांच, प्रयागराज के कोरांव और छतनाग में भी पांच-पांच सेंटीमीटर बारिश दर्ज की गई।

लखनऊ और आसपास के इलाके में शुक्रवार की सुबह से ही कभी हल्की तो कभी सामान्य बारिश का सिलसिला जारी रहा। बदली-बारिश से दिन के तापमान में खासी गिरावट दर्ज की गयी।