अब घर बैठे बनवाएं लर्निंग लाइसेंस

 



ऑनलाइन टेस्ट में फेल हो जाने पर पहले की तरह एक हफ्ते बाद दोबारा मिलेगा मौका

 


विजन लाइव/गौतमबुद्धनगर

गौतमबुद्धनगर में लर्निंग लाइसेंस यानी एलएल बनाने वालों के लिए अच्छी खबर आई हैं। सरकार ने लर्निंग लाइसेंस के लिए अब घर से ही ऑनलाइन टेस्ट देने की इजाजत दे दी है। यदि एक बार ऑनलाइन टेस्ट में फेल हो जाते हैं तो पहले की तरह एक हफ्ते बाद आपको दोबारा मौका मिलेगा। गौतमबुद्धनगर परिवहन विभाग के मुताबिक शासन की ओर से नई व्यवस्था को लेकर दिशा निर्देश का इंतजार है। हालांकि संभावना है कि परीक्षा संबंधी नियम पहले की तरह ही लागू होंगे। सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय ने लर्निंग लाइसेंस प्रक्रिया को घर बैठे ही पूरी कराने के निर्देश दिए थे लेकिन कोरोना संक्रमण के चलते यह योजना पूरी तरह से परवान नही चढ पाई थी। अब जुलाई के अंत तक इसे लागू करने की तैयारी है। गौतमबुद्धनगर परिवहन विभाग के मुताबिक ऑनलाइन परीक्षा में यातायात नियम संबंधी 16 सवाल पूछे जाते हैं। इनमें से आठ प्रश्नों के उत्तर सही होने जरूरी है। इससे कम उत्तर सही होने पर आवेदक फेल हो जाता है और एक हफ्ते बाद उसे दोबारा परीक्षा में शामिल होने का मौका मिलता है। आवेदक लर्निंग लाइसेंस का प्रिंट आउट ऑनलाइन कहीं से भी प्राप्त कर सकता है। गौतमबुद्धनगर एआरटीओ प्रशासन एके पांडे के मुताबिक शासन की ओर से दिशा निर्देश नहीं मिले हैं। दिशा निर्देश मिलने पर ही लोगों को इसकी जानकारी दी जा सकेगी। उन्होंने कहा कि विभाग में रोजाना औसतन 200 से 250 लर्निंग लाइसेंस बनते हैं। लर्निंग लाइसेंस के छह माह के लिए मान्य होता है। हालांकि एक माह बाद स्थाई ड्राइविंग लाइसेंस के लिए आवेदन कर सकते हैं।