विजन लाइव/ लखनऊ 

लखनऊ से गाजीपुर तक बन रहा पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे का निर्माण पूरा होने को है। अब इसे पूरी तरह हराभर रखने की तैयारी है। इसके लिए सात लाख पौधे लगाए जाएंगे। पूर्वांचल एक्सप्रेसवे के सड़क के दोनों किनारों पर शोभाकार, औषधीय, फूलदार एवं इमारती लकड़ियों वाले वृक्षों का रोपण किया जाएगा।  साथ ही सड़क के बीच में डिवाइडर पर सुंदर फूलों वाले पौधों का रोपण कराया जाएगा।

यूपीडा के सीईओ अवनीश अवस्थी ने शुक्रवार को इस वृक्षारोपण के संबंध में अधिकारियों संग बैठक की। उन्होंने निर्माण कंपनियों से कहा कि वह  वन विभाग के साथ समन्वय बनाकर वृक्षारोपण की व्यापक कार्य योजना तैयार करें। उन्होंने कहा कि एक्सप्रेसवे के प्रत्येक पैकेज पर शीघ्र इस कार्य के लिए नोडल अधिकारी तय किए जाएं। 

अवनीश अवस्थी ने कहा कि पूर्वांचल एक्सप्रेसवे के दोनों किनारों पर स्थित ग्रामों के ग्रामीणों को वन विभाग के सहयोग से नि:शुल्क पौधों का वितरण किया जाएगा एवं परियोजना के तहत आने वाले बड़े पौधों के लिए वन विभाग के सहयोग से वृक्षों को जड़ से हटाकर आधुनिक तकनीक से दूसरी जगह शिफ्ट किया जाएगा। 
 इस परियोजना का 90 प्रतिशत से ऊपर का कार्य सम्पन्न हो चुका है। एक्सप्रेसवे का कार्य तीव्र एवं निर्बाध गति से चल रहा है। पूर्वांचल एक्सप्रेसवे परियोजना एक्सप्रेसवे पर आपातकालीन स्थिति में लड़ाकू विमानों की लैण्डिंग के लिए बनाई जा रही हवाई पट्टी का कार्य भी पूरा हो चुका है।