पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष रविंद्र भाटी, जिला पंचायत वार्ड संख्या-5 से और श्रीमती पूजा बाल्मीकि वार्ड संख्या-1 से रालोद की प्रत्याशी होंगींः भूपेंद्र चौधरी एडवोकेट

 


 


समाजवादी पार्टी का विशेष चुनावी दस्ता मुस्लिम बाहुल्य इलाकों में जाकर भाजपा सरकार की कथनी और करनी के बारे में लोगों को बताएगा और गठबंधन प्रत्याशियों की जीत के लिए जी तोड कोशिश करेगाः बीर िंसंह यादव


 

 


जिला पंचायत के 5 वार्डो में सपा और रालोद गठबंधन के प्रत्याशी ही जीत का डंका बजाएंगेः चौधरी शौकत अली चेची


मौहम्मद इल्यास/गौतमबुद्धनगर

गौतमबुद्धनगर में एक बार फिर त्रिस्तरीय पंचायत चुनावों की जंग जीतने के लिए सपा और रालोद का गठजोड सामने आया है। वैसे इससे पहले कई बार विधानसभा और लोकसभा चुनावों में भी सपा और रालोद का गठजोड सामने आता रहा है। किंतु इस बार सपा और रालोद ने त्रिस्तरीय चुनावों की कडी मेंं खासकर जिला पंचायत चुनावों में अपना परचम लहराने के लिए खास रणनीति तैयार की है। गौतमबुद्धनगर में यदि जिला पंचायत के वार्डो पर गौर करें तो कुल 5 वार्ड हैं जिन पर जिला पंचायत सदस्यों का चुनाव होना है। इन 5 जिला पंचायत वार्डो पर भी सपा और रालोद मिल कर चुनाव लड रही हैं। रालोद के गौतमबुद्धनगर जिलाध्यक्ष भूपेंद्र चौधरी एडवोकेट ने बताया कि गौतमबुद्धनगर के 5 जिला पंचायत वार्डो में से 2 पर रालोद अपने प्रत्याशी उतार रही है और बाकी 3 जिला पंचायत वार्डो में सपा के प्रत्याशी चुनाव मैदान में होंगे। उन्होंने बताया कि रालोद के प्रत्याशियों में पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष रविंद्र भाटी निवासी ग्राम लडपुरा, ग्रेटर नोएडा और श्रीमती पूजा बाल्मीकि निवासी ग्राम सलारपुर कला, दादरी होंगी। इनमें पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष रविंद्र भाटी जिला पंचायत वार्ड


संख्या-5 से रालोद के प्रत्याशी होंगे। जब कि श्रीमती पूजा बाल्मीकि  जिला पंचायत  वार्ड संख्या-1 से रालोद की प्रत्याशी होंगी। वहीं सपा ने पंचायत चुनावों की जंग जीतने के लिए कई नए प्रयोग करने शुरू कर दिए हैं। गौतमबुद्धनगर सपा जिलाध्यक्ष बीर सिंह यादव ने इस चुनावों में मुसलमानों को रिझाने के लिए एक विशेष दस्ता तैयार किया है। यह विशेष चुनावी दस्ता मुस्लिम बाहुल्य इलाकों में जाएगा और सपा की नीति और रीति से रूबरू कराते हुए सपा प्रत्याशियों के हक मेंं वोट डलवाने के लिए जी तोड कोशिश करेंगा। गौतमबुद्धनगर सपा जिलाध्यक्ष वीर सिंह यादव ने बताया कि जिला पंचायत के 5 वार्डो में गौतमबुद्धनगर जिले का ग्रामीण क्षेत्र आता है जहां पर विकास की किरण नही पहुंच रही है। उत्तर प्रदेश की भाजपा सरकार इस ग्रामीण क्षेत्र के साथ सौतेला व्यवहार कर रही है। इस ग्रामीण क्षेत्र में दादरी का एक बडा भाग और वहीं दनकौर तथा जेवर क्षेत्र के ग्रामीण क्षेत्र आते हैं। नोएडा, ग्रेटर नोएडा और यमुना विकास प्राधिकरण के प्रभावित विकास क्षेत्र के अलावा बाकी बचे इस 5 जिला पंचायत वार्डो के समूचे क्षेत्र के विकास की पूरी जिम्मेदारी उत्तर प्रदेश सरकार की है मगर यहां पर विकास पूरी तरह से ठप्प पड गया है। उन्होंने बताया कि समाजवादी पार्टी, गठबंधन के 5 प्रत्याशियों की जीत के लिए मैदान में कमर कस कर कूद चुकी है। समाजवादी पार्टी ने एक विशेष चुनावी दस्ते का गठन किया है जो मुस्लिम बाहुल्य इलाकों में जाकर भाजपा सरकार की कथनी और करनी के बारे में लोगों को बताएगा और गठबंधन प्रत्याशियों की जीत के लिए जी तोड कोशिश करेगा। उन्होंने बताया कि समाजवादी पार्टी के इस विशेष चुनाव दस्ते में शौकत अली चेची, अकबर खान, अनीस अहमद, कुंवर नादिर शाह, यूनुष प्रधान, कफिल सैफी, श्रीमती फिरदोश शहनाज, नवाब कुरैशी, इमरान खान, वकील सिद्दीकी, डा0 इमरान जयसवाल, अकरम चौधरी, संजय खान, अब्दुल हमीद, हारून सैफी, समीर मेवाती, नसरूद्दीन मलिक, जुल्फिकार मलिक, शादाब शाहबेरी, इमरान सैफी, जावेद अंसारी, जावेद खान खेडी, सदाकत अली और शेर मौहम्मद आदि पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं को शामिल किया है। विशेष चुनावी दस्ते के प्रभारी शौकत अली चेची ने बताया कि आलाकमान के निर्देशों के अनुसार यह अल्पसंख्यक वर्ग का चुनावी दस्ता गठबंधन प्रत्याशियों की जीत के लिए पूरी शिद्दत से काम करेगा। उम्मीद है कि जिला पंचायत के 5 वार्डो में सपा और रालोद गठबंधन के प्रत्याशी ही जीत का डंका बजाएंगे।