भाजपा के पूर्व जिला उपाध्यक्ष राजा रावल का निधन, 2 दिन पहले बिगड़ी थी, तबियत

मौहम्मद इल्यास/गौतमबुद्धनगर

गौतमबुद्धनगर में भाजपा को एक बडा झटका लगा है। कारण मृदु स्वभाव और मिलनसार छवि के पूर्व जिला उपाध्यक्ष राजा रावल का दुखद निधन हो गया है। पूर्व जिला उपाध्यक्ष राजा रावल के अचानक निधन हो जाने से दादरी क्षेत्र के लोग और साथ ही गौतमबुद्धनगर के भाजपाई अवाक है और गहरे सदमें में हैं। मंगलवार को जैसे ही पूर्व जिला उपाध्यक्ष राजा रावल के निधन की खबर फैली गौतमबुद्धनगर भाजपा ने अपने पूर्व निर्धारित कार्यक्रमों को तत्काल प्रभाव से निरस्त करते हुए शोक घोषित कर दिया है। वहीं जिले भर के भाजपाईयों में राजा रावल के निधन से शोक की लहर दौड़ गई है। जिलेभर से लोग दादरी में उनके घर पहुंच रहे हैं। बताया गया है कि पूर्व जिला उपाध्यक्ष राजा रावल को दो दिन पहले परेशानी हुई थी। वह कैलाश अस्पताल में भर्ती थे और उपचार चल रहा था। मंगलवार की दोपहर में हालत बिगड़ने पर चिकित्सकों ने उन्हें जीवन रक्षक प्रणाली पर रखा था। मंगलवार की शाम करीब 500 बजे उन्होंने अंतिम सांस ली। पूर्व जिला उपाध्यक्ष राजा रावल हाल ही में दादरी नगर पालिका में राज्य सरकार की ओर से सभासद नमित किए गए थे। दिवंगत राजा रावल की राजनीतिक पृष्ठभूमि पर गौर करें तो पता चलता है कि करीब ढाई दशक से भारतीय जनता पार्टी में सक्रिय थे। वह गौतमबुद्धनगर के महामंत्री और उपाध्यक्ष रहे थे। राजा रावल की उम्र 48 वर्ष थी। परिवार में दो पुत्र और पत्नी हैं। चिकित्सकों की मानें तो राजा रावल को रक्त संक्रमण हुआ। उसके बाद ब्रेन डेड और मल्टी ऑर्गन फेलियर हुआ है। भाजपा में उनके साथियों ने बताया कि राजा रावल को पार्टी अनुशासन, संविधान और कार्यक्रमों की बेहद बारीक जानकारी थी। वह पार्टी के मामलों पर गंभीर पकड़ रखते थे। मृदु स्वभाव और मिलनसार छवि के कुशल भाजपाई राजा रावल के अचानक हुए निधन से ’’विजन लाइव’’ परिवार भी अवाक और निःशब्द है। भाजपा पूर्व जिला उपाध्यक्ष राजा रावल का पूरा जीवन जनता की सेवा व संगठन कार्यों में समर्पित रहा। ईश्वर उनके परिजनों को यह असहनीय पीड़ा सहने की शक्ति प्रदान करे। ॐ शांति शांति शांति।