किसानों ने 18 मार्च को फिर से ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण का घेराव करने और निर्माण कार्य रोकने का फैसला लिया

 


विजन लाइव/गौतमबुद्धनगर

किसान अधिकार युवा रोजगार आंदोलन के आह्वान पर नए भूमि अधिग्रहण कानून.2013 के अनुसार बाजार दर का 4 गुना मुआवजा, 20 प्रतिशत प्लॉट दिए जाने तथा सभी बालिग बच्चों को रोजगार दिए जाने तथा पुराने कानून के तहत जमीन अधिग्रहण से प्रभावित सभी किसानों को एक समान नीति का लाभ दिए जाने की मांग को लेकर विभिन्न संगठनों द्वारा चलाए जा रहे आंदोलन के दौरान शासन स्तर की वार्ता के बाद भी अभी तक मांगे पूरी नहीं किए जाने से नाराज किसानों ने आज ग्रेटर नोएडा के पल्ला गांव में विशाल महापंचायत का आयोजन किया। महापंचायत में जय जवान जय किसान मोर्चा, किसान एकता संघ, अखिल भारतीय किसान सभा, भाकियू बलराज, भाकियू भानू, देहात मोर्चा तथा सीटू आदि संगठनों के पदाधिकारियों ने बड़ी संख्या में भाग लिया। साथ ही इस दौरान पल्ला, पाली, कठेहरा, चिटहेरा एवं बोड़ाकी आदि कई दर्जनों गांवों के कई सौ किसानों और महिलाओं ने भाग लिया। मनीष भाटी बी.डी.सी ने बताया कि पीड़ित किसानों ने पहले 23 दिन ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण कार्यालय पर धरना प्रदर्शन किया था और 23 फरवरी को लखनऊ में शासन स्तर की वार्ता हुई थी। किंतु इन सबके बावजूद दिल्ली. मुंबई औद्योगिक कॉरिडोर तथा ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण द्वारा नए कानून का पालन नहीं किया जा रहा है जो कि किसानों के साथ बहुत बड़ा अन्याय है, जिसे अब बिल्कुल भी बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। किसान नेता सुनील फौजी ने बताया कि पीड़ित किसान जेल भरो आंदोलन के लिए भी तैयार हैं, जिसके लिए ग्राम वार सौ, सौ पुरुषों और महिलाओं की लिस्ट भी तैयार करने का निर्णय लिया गया। महापंचायत में हरियाणा किसान संघर्ष समिति के अध्यक्ष डी.के. शर्मा, विजय सिंह पथिक विचार मंच की ओर से राजकुमार भाटी, किसान सभा की ओर से डा0 रूपेश वर्मा, किसान एकता संघ की ओर से बृजेश भाटी और जतन प्रधान, भाकियू बलराज के अध्यक्ष बलराज भाटी, सीटू के गंगेश्वर दत्त शर्मा, भाकियू भानू के विकास गुर्जर, ईस्टर्न पेरिफेरल आंदोलन के आर. डी शर्मा, अंसल बिल्डर प्रतिरोध आंदोलन से विजय भाटी एडवोकेट, हाई टेक बिल्डर प्रतिरोध आंदोलन की ओर से महिपाल नागर, किसान नेता राधा चरण भाटी, कुलदीप प्रधान तथा पूर्व बार सचिव सुशील भाटी एडवोकेट, सर्वजीत एडवोकेट, कैप्टन बिजेंद्र भाटी, इंदर प्रधान, टीकम प्रधान, जगत सिंह पाली, फिरे भगत जी, धीरज दतावली आदि वक्ताओं ने अपने विचार रखे जब कि महापंचायत की अध्यक्षता सूबेदार राजपाल भाटी ने की।