किसान ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के कार्यालय पर सीईओ से मिलने पहुंचे थे, लेकिन उनकी वार्ता ओ.एस.डी.  सचिन कुमार से हुई

 




विजन लाइव/ग्रेटर नोएडा

किसान अधिकार युवा रोजगार आंदोलन के आह्वान पर नए भूमि अधिग्रहण कानून के अनुसार बाजार दर का 4 गुना मुआवजा, 20 प्रतिशत प्लॉट, प्रति बालिग बच्चे को रोजगार तथा भूमिहीनों व गरीबों को भी पुनर्वास की सभी सुविधाएं दिए जाने के साथ ही गांवों का विकास तय मानकों के अनुसार किए जाने की मांग को लेकर चलाए जा रहे आंदोलन के अंतर्गत पूर्व में प्राधिकरण पर हुए धरना प्रदर्शन और शासन स्तर की वार्ता में एक सप्ताह में हल करने का भरोसा दिया गया था, परन्तु एक सप्ताह से ज्यादा समय बीत जाने के बाद भी किसानों की मांगों पूरी नहीं की गई हैं। जिससे किसानों में भारी रोष है। पीड़ित किसान आज ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के कार्यालय पर सीईओ से मिलने  पहुंचे थ,े लेकिन उनकी वार्ता ओ.एस.डी.  सचिन कुमार से हुई। किसानों ने तय कार्यक्रम के अनुसार 07 मार्च को ग्रेटर नोएडा के पल्ला गांव में प्रस्तावित शांतिपूर्ण किसान महांचायत के मंच पर शासन द्वारा उनकी मांगों के संबंध में निर्णय सुनाए जाने की बात कही, जिसके अनुसार ही किसान आंदोलन के संबंध में सर्वसम्मति से अपनी रणनीति तय करेंगे। महापंचायत को सफल बनाएं जाने के लिए आज ग्रेटर नोएडा के दादूपुर आदि गांवों में पंचायत का आयोजन किया गया। महापंचायत को सफल बनाने के लिए दिनांक 06 मार्च को ग्रेटर नोएडा व डीएमआईसी द्वारा अधिसूचित गांवों में मोटर साइकल रैली निकाल कर लोगों को जागरूक किए जाने का भी निर्णय लिया है। जन जागरण अभियान में सुनील फौजी एडवोकेट, कृष्ण पाल भाटी, मनीष भाटी बी. डी. सी., संजय बोड़ाकी, नरेश मास्टर जी, बाबा रामचंद्र, बाबू भाटी, राजू भाटी, संकेत भाटी, फिरे भाटी, फतेह भाटी, सूरज भाटी, अमरीश भाटी, जिले महिलाल, सुखवीर, सुनील, देवेन्द्र भोगपुर, बबलू प्रधान, टीकम प्रधान, कृष्ण भाटी, अशोक बी.डी.सी., जितेंद्र प्रधान, रामरतन नागर, जयकिशन, आर.डी. शर्मा, राजेश नागर, सुशील नागर, अजब सिंह सिसौदिया, देवी सिंह दुरियाई, सूबेदार बलबीर और गजेंद्र फौजी आदि ग्रामीण मौजूद रहे।