विजन लाइव/गौतमबुद्धनगर

किसान एकता संघ के प्रतिनिधि मंडल ने उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव से किसानों की समस्याओं के संबंध में मुलाकात की। किसान एकता संघ के प्रदेश मीडिया प्रभारी आलोक नागर ने बताया  कि किसान एकता संघ के प्रतिनिधिमंडल ने जनपद गौतमबुद्धनगर के किसानों की समस्या और तीन कृषि काले कानूनों के संबंध में मुलाकात कर उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव को एक ज्ञापन सौंपा। किसान एकता संघ के जिलाध्यक्ष कृष्ण नागर ने कहा कि प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री  अखिलेश यादव से जनपद गौतमबुद्धनगर के किसानों की मुख्य समस्या जिसमें जेवर एयरपोर्ट से प्रभावित किसानों को नए भूमि अधिग्रहण कानून 2013 के तहत मुआवजा देने, तीनों प्राधिकरण के अंतर्गत आने वाले सभी किसानों को अतिरिक्त प्रति कर और 10 प्रतिशत विकसित भूखंड देने, बैकलीज और शिफ्टिंग का समाधान जल्द कराने प्रदेश सरकार द्वारा खत्म किए गए दनकौर के ऐतिहासिक ब्लॉक की बहाली व जनपद गौतमबुद्धनगर में पुनः पंचायत व्यवस्था बहाल किए जाने की मांगों को लेकर एक ज्ञापन सौंपा। पूर्व मुख्यमंत्री ने प्रतिनिधिमंडल को आश्वस्त किया है कि सभी मांगों का जल्द से जल्द समाधान कराया जाएगा। गाजीपुर बॉर्डर पर चल रहे धरने का समर्थन करते हुए पूर्व मुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि यह लड़ाई चंद पूंजीपतियों और किसान के हक और अधिकारों की है। यह सरकार लगातार किसानों का शोषण कर रही है जिसे कतई बर्दाश्त नही किया जाएगा। इस मौके पर जतन प्रधान,आलोक नागर, कृष्ण नागर,प्रदीप भाटी, अखलाक अब्बासी आदि पदाधिकारी और कार्यकर्तागण मौजूद रहे।