पुलिस ने मुठभेड के दौरान बदमाशों को दबोच घटना मे प्रयुक्त एक स्विफ्ट वीडीआई कार,एक कंट्री मेड पिस्टल मय कारतूस व 10000 रूपये बरामद किए

 




विजन लाइव/ग्रेटर नोएडा

थाना बीटा-2 के सेक्टर.36 में गुरूवार की सुबह घर से निकलते ही वकील की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। पुलिस ने मुठभेड के दौरान बदमाशों को दबोच लिया है। पुलिस ने दावा किया है कि वकील की हत्या 2,00,000 रूपये सुपारी पर हुई थी, जिसमे 1,00,000 एडवांस दिया गया था और 1,00,000 कार्य करने के बाद देना तय हुआ था। इन 1,00,000 रूपयों को लेने के लिए हत्यारोपी आज ग्रेटर नोएडा की ओर आए थे। पुलिस ने मौका पाकर उन्हे घेर लिया और जमकर मुठभेड हुई। डीसीपी जोन-3 राजेश कुमार सिंह ने बताया कि थाना बीटा.2 क्षेत्र में चुहरपुर अंडर पास के पास थाना बीटा 2 पुलिस, एसओजी स्टार 1 और स्टार 2 टीम और बदमाशों के बीच चेकिंग के दौरान हुई पुलिस मुठभेड मे एक बदमाश संजीव उर्फ सोनू निवासी जनपद हाथरस गोली लगने से घायल  व एक अन्य फरार बदमाश सुभाष निवासी बुलंदशहर को कॉम्बिंग के दौरान गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने इन बदमाशो के कब्जे से घटना मे प्रयुक्त एक स्विफ्ट वीडीआई कार,एक कंट्री मेड पिस्टल मय कारतूस व 10000 रूपये बरामद किया गया है। बदमाश को घायल अवस्था में उपचार हेतु जनपद अस्पताल भेजा जा रहा है। दोनो बदमाश दिनांक 17-12-2020 को बीटा 2 थाना क्षेत्र मे हुई वकील फतेह मौहम्मद खान की हत्या में शामिल है। पूछताछ के दौरान बदमाशो द्वारा बताया गया कि सुभाष ने घटना के दिन स्विफ्ट वीडीआई गाड़ी से सोनू को वकील के घर के पास छोड़ा था। 2,00,000 रूपये सुपारी पर यह हत्या हुई थी। जिसमे 1,00,000 एडवांस दिया गया था और 1,00,000 कार्य करने के बाद देना तय हुआ था। उन्होंने बताया कि आज 1,00,000 रूपये लेने के लिए आए थे। दो अन्य साजिशकर्ताओं के नाम भी प्रकाश में आए हैं,जिन्हे शीघ्र ही गिरफ्तार किया जाएगा। गौरतलब है कि रबूपुरा कोतवाली क्षेत्र के खेरली भाव गांव के रहने वाले फतेह मोहम्मद खान एडवोकेट सेक्टर.36 में परिवार के साथ रहते थे। दिनांक 17 दिसंबर-2020 की सुबह उनका एक मुवक्किल कमल सिंह उन्हें लेने लिए घर पहुंचा था। वकील फतेह मोहम्मद खान अपने मुवक्किल के साथ जैसे ही घर से निकले पीछे से आए हमलावरों ने उन पर ताबड़तोड़ गोलियां बरसा दीं। हमलावरों ने वकील को तीन गोली मारी और फरार हो गए। गोलियों की आवाज सुनकर परिवार के लोग भी घटनास्थल पर पहुंच गए। परिजन वकील को तुरंत अस्पताल लेकर गए। जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। घटना की सूचना पर पुलिस के आला अधिकारी मौके पर पहुंचे। इस मामले में मृतक के बेटे  आरिफ ने बीटा दो कोतवाली में हत्या का मुकदमा दर्ज करवाया था।